यूपी का रहने वाला अल कायदा आतंकी उमर ढेर, PM मोदी को दी थी जान से मारने की धमकी

आतंकवादी संगठन अल कायदा का इंडिया सबकॉन्टिनेंट (AQIS) चीफ मौलाना आसिम को अल कायदा चीफ अयमान अल जवाहिरी का करीबी था. उसने 2015 में वीडियो जारी कर अमेरिका, संयुक्त राष्ट्र संघ और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस्लाम का दुश्मन बताते हुए हमले की धमकी दी थी.
अल कायदा आतंकी उमर, यूपी का रहने वाला अल कायदा आतंकी उमर ढेर, PM मोदी को दी थी जान से मारने की धमकी

लखनऊ: 2015 में वीडियो जारी कर अमेरिका, संयुक्त राष्ट्र संघ और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस्लाम का दुश्मन बताते हुए हमले की धमकी देने वाला खूंखार आतंकी चीफ मौलाना आसिम उमर को मार दिया गया है. ये आतंकवादी संगठन अल कायदा का इंडिया सबकॉन्टिनेंट (AQIS) का चीफ था. अफगानिस्तान के नेशनल सिक्योरिटी डायरेक्टर ने ट्वीट कर दी है.

आतंकवादी संगठन अल कायदा का इंडिया सबकॉन्टिनेंट (AQIS) चीफ मौलाना आसिम को अल कायदा चीफ अयमान अल जवाहिरी का करीबी था. उसने 2015 में वीडियो जारी कर अमेरिका, संयुक्त राष्ट्र संघ और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस्लाम का दुश्मन बताते हुए हमले की धमकी दी थी.


अफगानिस्तान के नेशनल सिक्योरिटी डायरेक्टर के अनुसार आसिम को अफगानिस्तान के मूसा काला जिले में पिछले माह हुए एक ऑपरेशन में अमेरिकी फौज ने मार गिराया था. बताया जाता है कि वह उत्तर प्रदेश के संभल जिले का निवासी था. उसका वास्तविक नाम सनाउल हक था. आसिम को सन 2014 में अल कायदा चीफ अयमान अल जवाहिरी ने एक वीडियो जारी कर इंडिया सबकॉन्टिनेंट का चीफ घोषित किया था.

90 के दशक में छोड़ा था घर
भारतीय खुफिया एजेंसियों की जांच में यह सामने आया था कि मौलाना आसिम उमर भारत का ही रहने वाला है. वह उत्तर प्रदेश के संभल जिले का रहने वाला है. सनाउल 90 के दशक में घर से गायब हो गया था. बाद में उसके पाकिस्तान में होने की जानकारी मिली थी. 2016 में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने रॉ के साथ मिलकर भारत में मौजूद अल कायदा के कई आतंकियों को पकड़ा था. उनसे पूछताछ में भी इसकी पुष्टि हुई थी कि आसिम उमर उत्तर प्रदेश के संभल का रहने वाला सनाउल ही है.

अमेरिका पर 9/11 हमले के बाद अल कायदा की एक डॉक्युमेंट्री में भी वह ओसामा बिन लादेन के साथ नजर आया था. अमेरिका ने 2016 में उसे ग्लोबल टेररिस्ट लिस्ट में शामिल किया था. मौलाना उमर ने हाल के कुछ सालों में भारत में जिहाद फैलाने के लिए कई वीडियो भी जारी किए थे. इन वीडियो में वह भारतीय जांच एजेंसियों और पुलिस पर हमले के लिए उकसाते नजर आया था.

Related Posts