कांग्रेस से इस्तीफा देने वाले अशोक तंवर के BJP में शामिल होने को लेकर CM खट्टर ने कही ये बात

सीएम खट्टर ने विपक्ष की आलोचना करते हुए कहा कि टिकट आवंटन में तंवर के आरोपों ने पार्टी को बेनकाब कर दिया है.
अशोक तंवर, कांग्रेस से इस्तीफा देने वाले अशोक तंवर के BJP में शामिल होने को लेकर CM खट्टर ने कही ये बात

हरियाणा कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अशोक तंवर के पार्टी से इस्तीफा देने के बाद सियासी माहौल गरमा गया है. हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने अशोक तंवर को भाजपा में शामिल करने की किसी भी संभावना से शनिवार को इनकार कर दिया.

ये बोले सीएम

सीएम खट्टर ने विपक्ष की आलोचना करते हुए कहा कि टिकट आवंटन में तंवर के आरोपों ने पार्टी को बेनकाब कर दिया है. उन्होंने कहा कि सिर्फ उन लोगों को भाजपा में शामिल किया जाएगा जिनका ‘अतीत साफ-सुथरा’ हो और उन पर कोई ‘धब्बा’ नहीं हो.

सीएम मनोहर लाल खट्टर ने पत्रकारों से कहा कि हम उन्हें (अशोक तंवर) प्रवेश नहीं देंगे. भाजपा द्वारा उन्हें पार्टी में शामिल होने का आमंत्रण मिलने की तंवर की कथित टिप्पणी के बारे में किए गए सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि यह पूरी तरह से गलत है. उन्होंने कहा कि अगर भाजपा ने उन्हें (तंवर) को आमंत्रित किया होता तो, वह अब तक पार्टी में आ गए होते.

बीजेपी ज्वाइन करने वाले सवाल पर क्या बोले तंवर

वहीं टीवी9 भारतवर्ष से खास बातचीत में संवाददाता ने जब अशोक तंवर से सवाल किया कि क्या आप बीजेपी ज्वाइन करना चाहते हैं तो इसके जवाब में उन्होंने कहा, ”इल्जाम को कोई भी लगा देता है कि लेकिन मैं पहले भी कह चुका हूं कि पिछले पांच साल बीजेपी की मदद किसने की. हरियाणा में बीजेपी को लेकर कौन आया. आज भी जो टिकट वितरण हुआ है वो बीजेपी को फायदा पहुंचाने वाला हुआ है और 24 दिन बाद ये साबित हो जाएगा.”

‘बीजेपी से बहुत बार ऑफर आया’

उन्होंने कहा, ”अशोक तंवर का बीजेपी से कोई मतलब नहीं है. बीजेपी से बहुत बार ऑफर आया है मेरे पास. कांग्रेस में थे और अब नहीं हैं ये सच्चाई है. अपने साथियों से चर्चा करेंगे क्या करना है. साथ ही उन्होंने कहा कि हरियाणा में ही पानीपत है और कुरूक्षेत्र भी. ये रण की भूमि है और हम रण करेंगे.”

आरोप लगाकार पार्टी से दिया इस्तीफा

बता दें कि हरियाणा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अशोक तंवर ने कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दे दिया है. हरियाणा चुनाव से पहले तंवर का इस्तीफ़ा कांग्रेस के लिए झटका माना जा रहा है. तंवर ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेजे त्यागपत्र में आरोप लगाया कि पार्टी को खत्म करने की साजिश रची जा रही है.

कुछ दिनों पहले ही उन्होंने राज्य विधानसभा चुनाव के लिए बनी विभिन्न समितियों से इस्तीफा दे दिया था. तंवर हरियाणा चुनाव के लिए कांग्रेस उम्मीदवारों को टिकट देने से नाराज़ थे. तंवर ने आरोप लगाया कि सोहना विधानसभा सीट पांच करोड़ में बेची गई है.

ये भी पढ़ें-

अशोक तंवर का सनसनीखेज खुलासा- BJP को जिताने के लिए रचा गया ये गेम प्लान

हरियाणा कांग्रेस को झटका, अशोक तंवर ने पार्टी से दिया इस्तीफा; ये है वजह

Related Posts