कोरोना के बाद अब चीन का CQ वायरस बन सकता है दुनिया के लिए खतरा

इस वायरस का नाम CQV यानी Cat Que Virus जो ज्यादातर सुअर और मच्छरों के जरिए फैलता है और ICMR यानी Indian Council of Medical Research के मुताबिक ये भारत में भी बीमारी फैला सकता है.

अब कोरोना फैलाने वाले चीन से एक और खतरे की ओर बढ़ने वाली खबर आ रही है. दुनिया भर में कोरोना वायरस फैलाने वाले चीन से एक और वायरस दुनिया और भारत के लिए खतरा बन सकता है. जिसके बारे में ICMR यानी Indian Council of Medical Research ने आगाह किया है. आइए जानते हैं कि आखिर ये नया वायरस क्या है और ये कैसे फैल रहा है.

दुनिया भर में करीब साढ़े तीन करोड़ और भारत में साठ लाख से ज्यादा लोगों को शिकार बनाने वाले जिस कोरोना वायरस की उत्पत्ति चीन से हुई है, उस चीन से एक और वायरस तांडव मचा सकता है.

दो लोगों में मिले वायरस के एंटीबॉडी

इस वायरस का नाम CQV यानी Cat Que Virus जो ज्यादातर सुअर और मच्छरों के जरिए फैलता है और ICMR यानी Indian Council of Medical Research के मुताबिक ये भारत में भी बीमारी फैला सकता है.

यह भी पढ़ें- Covid-19 : मां के दूध से कोरोना का इलाज संभव, चीनी वैज्ञानिकों का दावा

पुणे के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी के वैज्ञानिकों ने देश भर में 883 लोगों का सीरम टेस्ट किया था, जिनमें से 2 लोगों में CQV वायरस की एंटीबॉडी मिली हैं. मतलब ये कि ये लोग इस वायरस से संक्रमित हुए थे.

बच्चों में फैला सकते हैं इंसेफेलाइटिस

बताया जा रहा है कि ये सैंपल कर्नाटक में 2014 और 2017 में लिए गए थे. वैज्ञानिकों ने इसके साथ ही भारत में पाए जाने वाले मच्छरों पर भी टेस्ट किया था, जिसमें पता चला था कि भारत के मच्छर CQV वायरस के प्रति संवेदनशील हैं. मतलब ये कि इससे संक्रमित हो सकते हैं और फिर इसे इंसानों में भी फैला सकते हैं.

यह भी पढ़ें- मेरी हालत अब ठीक, एक-दो दिन में मिल सकती है अस्पताल से छुट्टी: मनीष सिसोदिया

इसका जिक्र हाल ही में आए Indian Journal of Medical Research में किया गया है. CQV यानी Cat Que Virus आर्बोवायरस में से एक है. यह आर्थोपोडा वर्ग के कीड़े-मकोड़ों जैसे मच्छर, मक्खी, कॉकरोच, बिच्छू और खटमल वगैरह से फैलता है और ये इंसानों में बच्चों में इंसेफेलाइटिस की वजह बन सकता है और उनकी जान भी ले सकता है.

Related Posts