कमलेश तिवारी हत्या के बाद साध्वी प्राची ने बताया जान को खतरा, सुरक्षा मांगी

हरिद्वार में पत्रकारों से बातचीत में साध्वी ने रविवार को केंद्रीय गृहमंत्री और उत्तराखंड व उत्तर प्रदेश की सरकारों से खुद के लिए सुरक्षा की मांग की. उन्होंने कहा, "मुझे कई बार धमकियां मिल चुकी हैं.

फायरब्रांड हिंदू नेता साध्वी प्राची ने लखनऊ में हिंदू नेता कमलेश तिवारी की मौत के बाद अपनी जान को भी खतरे में बताया है. उन्होंने कहा कि तिवारी को जिहादियों (इस्लामिक आतंकवादियों) ने मारा.

हरिद्वार में पत्रकारों से बातचीत में साध्वी ने रविवार को केंद्रीय गृहमंत्री और उत्तराखंड व उत्तर प्रदेश की सरकारों से खुद के लिए सुरक्षा की मांग की. उन्होंने कहा, “मुझे कई बार धमकियां मिल चुकी हैं. मैं ईश्वर में दृढ़ विश्वास रखती हूं और अब तक इस पर चर्चा नहीं की है लेकिन कमलेश तिवारी की हत्या ने मुझे परेशान कर दिया है.”

उन्होंने आगे कहा, “कुछ दिनों पहले कुछ अज्ञात व्यक्ति मेरे आश्रम में आए थे और मेरे बारे में पूछताछ कर रहे थे. मुझे लगता है मुझे सुरक्षा की जरूरत है.” साध्वी प्राची ने आरोप लगाया कि कांग्रेस द्वारा जिहादियों को भारत में संरक्षण दिया जा रहा है और इसकी पूरी जांच होनी चाहिए.

साध्वी ने कहा, “योगी सरकार को चाहिए कि वह इस बात की जांच करे कि कमलेश तिवारी की सुरक्षा क्यों हटाई गई और इसके लिए जिम्मेदार अधिकारियों पर कार्रवाई होनी चाहिए.” गौरतलब है कि पूर्व हिंदू महासभा के नेता और हिंदू समाज पार्टी प्रमुख कमलेश तिवारी की लखनऊ में शुक्रवार को उनके घर स्थित कार्यलय में गला रेतने के बाद गोलियों से भून कर हत्या कर दी गई थी.