नागालैंड में Dog Meat पर बैन, सोशल मीडिया पर मचे बवाल के बाद सरकार ने लिया फैसला

हले राज्य सरकार (Nagaland Government) ने शहरी स्थानीय निकायों से कुत्तों के मांस (Dog Meat) बेचने वाले बाजारों को खत्म करने के लिए कहा था, लेकिन उस समय यह निर्णय लागू नहीं किया गया था.
nagaland government ban dog meat, नागालैंड में Dog Meat पर बैन, सोशल मीडिया पर मचे बवाल के बाद सरकार ने लिया फैसला

नागालैंड सरकार (Nagaland Government) ने कुत्ते के मांस (Dog Meat) का कमर्शियल इंपोर्ट, ट्रेडिंग और बिक्री पर बैन लगाने का फैसला किया है. राज्य के शीर्ष अधिकारी ने शुक्रवार को कहा कि बोरियों में बंधे कैनाइन की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर व्यापक रूप से वायरल की गई थी. कहा जा रहा है कि इसी वजह से सरकार ने अब बैन लगाने का निर्णय लिया है.

यह दूसरी बार है जब इस तरह का कदम उठाया गया है. पहले राज्य सरकार ने शहरी स्थानीय निकायों से कुत्तों के मांस बेचने वाले बाजारों को खत्म करने के लिए कहा था, लेकिन उस समय यह निर्णय लागू नहीं किया गया था. जानवरो के प्रति आए दिन घट रहीं हिंसा के प्रति नागालैंड सरकार का यह सराहनीय कदम है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

नहीं बिकेगा पका और बिन पका दोनों

नागालैंड के चीफ सेक्रेटरी तेमजन टॉय ने इस मामले को लेकर ट्वीट भी किया है. चीफ सेक्रेटरी ने लिखा, “राज्य सरकार ने कुत्तों के इंपोर्ट और ट्रेडिंग के साथ ही कुत्तों के बाजारों पर बैन लगाने का फैसला लिया है. यह बैन कुत्ते के मांस की Cook और Uncooked बिक्री पर भी है. राज्य के मंत्रिमंडल द्वारा लिए गए बुद्धिमान निर्णय की सराहना करते हैं.”

सोशल मीडिया पर जो तस्वीरें वायरल हुई थी वो बहुत ही परेशान करने वाली थीं. तस्वीर में देखा जा सकता था कि नागालैंड के दीमापुर की वेट मार्केट्स में से एक में कुत्तों को उनके मुंह के साथ एक वस्तु के रूप में बोरियों में पैक किया जा रहा था. फेडरेशन ऑफ इंडियन एनिमल प्रोटेक्शन ऑर्गेनाइजेशन (FIAPO)ने गुरुवार को राज्य सरकार को कुत्ते के मांस के व्यापार पर प्रतिबंध लगाने के लिए एक नई याचिका सौंपी थी.

कुत्ते के मांस की बिक्री के खिलाफ ओमंग कुमार

वहीं प्रियंका चोपड़ा स्टारर फिल्म ‘मैरी कॉम’ के निर्देशक ओमंग कुमार ने एक ऑनलाइन कैंपेन में भाग लिया. उन्होंने इस ऑनलाइन कैंपेन के जरिए अन्य सोशल मीडिया यूजर्स को कुत्ते के मांस के व्यापार पर बैन लगाने की मांग करते हुए ईमेल भेजने के लिए कहा था.

राज्य में कुछ समुदायों के बीच कुत्ते के मांस को एक डेलिकेसी माना जाता है. 2016 में पशु अधिकार कार्यकर्ताओं ने कुत्ते के मांस के व्यापार पर सरकार को एक कानूनी नोटिस भी भेजा था.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts