अकबरुद्दीन ओवैसी ने दोहराई ’15 मिनट’ वाली बात, कहा ‘दुनिया उससे डरती है जो डराना जानता है’

ओवैसी ने कहा 'हमें न जीताओ कोई बात नहीं, लेकिन हमें बीजेपी की जीत मंजूर नहीं है.'

AIMIM के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी के छोटे भाई अकबरुद्दीन ओवैसी ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है. तेलंगाना के करीमनगर में एक जनसभा के दौरान ओवैसी ने मॉब लिंचिंग पर मुसलमानों को शेर बनने की सलाह दी. इसके बाद उन्होंने अपना ’15 मिनट’ वाला बयान याद दिलाया.

अकबरुद्दीन ओवैसी ने अपनी स्पीच में कहा कि उनके 15 मिनट वाले बयान से लोग अभी भी दहशत में हैं. उन्होंने कहा कि मॉब लिंचिंग करने वाले और आरएसएस वाले उनसे डरते हैं. मुसलमानों को शेर बनना होगा ताकि कोई चायवाला उनके सामने खड़ा न हो सके. ओवैसी ने आगे कहा कि ‘नौजवानों में आपसे कहूंगा कि जो हम यहां करेंगे, उसके बदले जन्नत या जहन्नुम मिलेगी. शहीद जन्नतों की जन्नत जाता है. वे कुछ भी नारा लगवाएं, तुम सिर्फ अल्लाह का नाम लो.’

ओवैसी ने कहा कि ‘याद रखो, दुनिया उसी को डराती है जो डरता है और दुनिया उसी से डरती है जो डराना जानता है. शहादत का जज्बा आ जाएगा तो कोई मॉब लिंचिंग करने वाला या आरएसएस वाला हमारा कुछ नहीं कर पाएगा. इसीलिए वे अकबरुद्दीन से नफरत करते हैं क्योंकि वे डरते हैं.’

इसके बाद अकबरुद्दीन ने जो ’15 मिनट’ वाली बात दोहराई वो उनका 2013 का बयान है. उस बयान में उन्होंने कहा था ‘हम मुसलमान 25 करोड़ हैं और तुम (हिंदू) 100 करोड़ हो. 15 मिनट के लिए पुलिस हटा दो, देख लेंगे किसमें कितना दम है. दुश्मन आज मजबूत हो रहा है क्योंकि हम बंटे हुए हैं.’