CAA पर स्टैंड को लेकर अकाली दल ने बीजेपी से तोड़ा गठबंधन, नहीं लड़ेंगे दिल्ली विधानसभा चुनाव

सोमवार को अकाली दल ने साफ कर दिया कि उनका नागरिकता कानून पर स्टैंड कायम है और बीजेपी बार-बार उन पर दवाब भी डाल रही है.
Delhi Assembly election, CAA पर स्टैंड को लेकर अकाली दल ने बीजेपी से तोड़ा गठबंधन, नहीं लड़ेंगे दिल्ली विधानसभा चुनाव

नागरिकता कानून का असर अब बीजेपी की राजनीति पर भी होने लगा है. बीजेपी की सहयोगी अकाली दल ने आगामी दिल्ली विधानसभा चुनाव के ठीक पहले नागरिकता कानून पर अपने स्टैंड को लेकर बीजेपी से गठबंधन तोड़ लिया है. इसी के साथ अकाली दल ने साफ किया है कि वह दिल्ली में होने वाले विधानसभा चुनाव में भी हिस्सा नहीं लेगा. मालूम हो कि पुर्व में दिल्ली विधानसभा चुनावों में अकाली दल चार सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारती थी.

हालांकि सोमवार को अकाली दल ने साफ कर दिया कि उनका नागरिकता कानून पर स्टैंड कायम है और बीजेपी बार-बार उन पर दवाब भी डाल रही है. उन्होंने साफ किया कि अकाली दल एनआरसी के भी खिलाफ है. अकाली दल का कहना है कि उनकी मांग है कि नागरिकता कानून में मुस्लिमों को भी हक मिले. उनका कहना है कि धर्म के नाम पर किसी को भी बाहर निकालना सही नहीं है.

नागरिकता कानून पर अपना स्टैंड साफ करने के साथ ही अकाली दल ने यह भी साफ कर दिया है कि वह दिल्ली के विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेगी. मालूम हो कि दिल्ली में विधानसभा चुनावों के तहत 8 फरवरी को वोट डाले जाएंगे. विधानसभा चुनाव के नतीजे 11 फरवरी को आएंगे.

ये भी पढ़ें: ‘नागरिकता कानून को सुधार की जरूरत,’ जामिया मिलिया में बोले दिल्ली के पूर्व LG नजीब जंग

Related Posts