निर्भया मामले के दोषी ने फांसी के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की पुनर्विचार याचिका

अक्षय को निर्भया मामले में ट्रायल कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई थी. ट्रायल कोर्ट का यह फैसला दिल्ली हाई कोर्ट और फिर सुप्रीम कोर्ट में भी कायम रहा.

सुप्रीम कोर्ट में मंगलवार को निर्भया के साथ हुए बलात्कार के दोषी अक्षय कुमार सिंह ने पुनर्विचार याचिका दाखिल की है. इससे पहले निर्भया मामले के एक और दोषी विनय शर्मा ने राष्ट्रपति के सामने दया याचिका दाखिल की थी. मालूम हो कि दिल्ली में निर्भया कांड के चार आरोपियों को सुप्रीम कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई थी. इन्हीं में से एक अक्षय ने सुप्रीम कोर्ट में इस फैसले पर पुनर्विचार याचिका दाखिल की.

अक्षय को ट्रायल कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई थी. ट्रायल कोर्ट का यह फैसला दिल्ली हाई कोर्ट और फिर सुप्रीम कोर्ट में भी कायम रहा. ऐसे में अक्षय ने फैसले पर पुनर्विचार याचिका की है. याचिका दाखिल करने के बाद अक्षय के वकील ने कहा कि निर्भया गैंगरेप मामले में अक्षय की याचिका में ऐसे कई ग्राउंड्स हैं, जिनके आधार पर उनकी रिव्यू पिटीशन मंजूर हो सकती है और इसमें हमें राहत मिल सकती है.

अक्षय के वकील ने कहा कि अक्षय कुमार सिंह 16 दिसंबर 2012 की रात (निर्भया गैंगरेप की रात) वह दिल्ली में नहीं था, वह 15 दिसंबर को ही अपने गांव जा चुका था. अक्षय के वकील के मुताबिक इन्हीं ग्राउंड के आधार पर उन्होंने रिव्यू पिटीशन दाखिल की है.

ये भी पढ़ें: नागरिकता संशोधन बिल पास होने से इमरान खान बौखलाए, ट्वीट में बताया ‘RSS का प्‍लान’