पुलवामा में फिर आतंकी हमले की आशंका, पाकिस्तान ने किया आगाह

पाकिस्तान ने इस बात की सूचना भारत और अमेरिका के साथ साझा किया है.

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर का पुलवामा एक बार फिर से आतंकियों के निशाने पर है. बताया जा रहा है कि पुलवामा ज़िले के पास अवंतीपुरा में आतंकी IED ब्लास्ट की साज़िश रच रहे हैं.

वरिष्ठ सुरक्षाकर्मी के मुताबिक पाकिस्तान ने इस बात की सूचना भारत और अमेरिका के साथ साझा किया है. अधिकारियों ने यह भी बताया है कि आतंकी जाकिर मूसा की हत्या का बदला लेना चाहते हैं.

अलर्ट के बाद से ही जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा-व्यवस्था बढ़ा दी गई है. जवान ख़ासकर जम्मू-कश्मीर राजमार्ग पर जा रही तमाम गाड़ियों को विशेष रूप से चेक कर रहे हैं.

बता दें कि आतंकी जाकिर मूसा ददसारा(त्राल) में हुई मुठभेड़ में पिछले महीने मारा गया था. मूसा आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन का पूर्व कमांडर था और अब अलकायदा से जुड़ा समूह चलाता था जिसका नाम अंसार गजावत उल हिंद है.

यह जानकारी SCO समिट से ठीक पहले आई थी. माना जा रहा है कि पाकिस्तान अपने ऊपर आतंक को समर्थन देने वाला देश का लगा आरोप हटाने और अंतरराष्ट्रीय दबाव से बचने के लिए यह जानकारी साझा कर रहा है.

और पढ़े- मोदी में हिम्मत है, रोकने वाला कोई नहीं, जरूर बनेगा राम मंदिर: अयोध्या में बोले उद्धव ठाकरे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने SCO समिट में सभी देशों से कहा, “भारत आतंकवाद से निपटने के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर के सम्मेलन का आह्वान करता है…”

एससीओ देशों के सम्‍मेलन में भले ही पीएम मोदी ने पाकिस्‍तान का नाम नहीं लिया लेकिन ये साफ कर दिया कि जो लोग आतंकवाद को पनाह देते हैं उनके खिलाफ सख्‍त कार्रवाई होनी चाहिए. उन्‍होंने कहा कि समाज को आतंकवाद मुक्‍त करना है और इसके लिए एससीओ देशों को इसके खिलाफ खड़ा होना होगा.

पीएम मोदी ने सम्‍मेलन में अफगानिस्‍तान का भी जिक्र किया. उन्‍होंने कहा कि अफगानिस्‍तान में शांति जरूरी है और इसके लिए भारत अफगानिस्‍तान के साथ खड़ा है. पीएम मोदी ने कहा कि आतंकवाद पर अंतरराष्‍ट्रीय सम्‍मेलन होना चाहिए.

और पढ़ें- बर्मा की बिकनी वाली डॉक्टर जिसने बजाया विरोध का बिगुल, देखें फोटो