केंद्र के कानून से किसानों को बचाने के लिए स्‍टेट लॉ में संशोधन की तैयारी: अमरिंदर सिंह

सीएम अमरिंदर ने कहा कि वे शहीद भगत सिंह के पैतृक गांव खटकर कलां में उनकी जयंती पर सोमवार को विरोध प्रदर्शन करेंगे. कृषि कानून (Farm Act) के खिलाफ अमरिंदर सिंह का यह पहला सार्वजनिक विरोध प्रदर्शन होगा.

amrinder singh

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर (Captain Amrinder Singh) सिंह ने रविवार को कहा कि किसानों को कृषि कानून (Farm Act) से बचाने के लिए रज्य कानून में संशोधन किया जा सकता है. अमरिंदर सिंह ने एक बायन में कहा कि हम कनूनी और कृषि विशेषज्ञों के साथ परामर्श कर रहे हैं.

कृषि कानूनों को लेकर सत्तारूढ़ बीजेपी को शिरोमणि अकाली दल के साथ गठबंधन की कीमत चुकानी पड़ी है. रविवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इन विधेयकों पर हस्ताक्षर कर दिया जिसके बाद ये कानून बन गए हैं.

कानून के खिलाफ प्रदर्शन करेंगे कैप्टन

सीएम अमरिंदर ने कहा कि वे शहीद भगत सिंह के पैतृक गांव खटकर कलां में उनकी जयंती पर सोमवार को विरोध प्रदर्शन करेंगे. कृषि कानून के खिलाफ अमरिंदर सिंह का यह पहला सार्वजनिक विरोध प्रदर्शन होगा.

यह भी पढ़ें- कृ​​षि विधेयक बने कानून, राष्ट्रपति ने दी मंजूरी, किसानों का विरोध प्रदर्शन जारी

अमरिंदर ने कहा कि यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इन विधेयकों को मंजूरी दे दी है.

राष्ट्रपति की सहमति, किसानों के लिए झटका

अमरिंदर सिंह ने कहा कि राष्ट्रपति का इन विधेयकों पर हस्ताक्षर करना किसानों के लिए एक बड़ा झटका है, जो सड़कों पर अपने हितों पर हो रहे हमले के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें- Bihar Election 2020: पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडे की राजनीति में एंट्री, JDU में हुए शामिल

अपने मौजूदा स्वरूप में इन खतरनाक कानूनों को लागू करने से पंजाब की कृषि, इसकी अर्थव्यवस्था की जीवनरेखा खत्म हो जाएगी.

अकाली दल ने छोड़ा गठबंधन

बीजेपी की सबसे पुरानी सहयोगी शिरोमणि अकाली दल ने शनिवार को तीन विवादास्पद कृषि क्षेत्र के बिलों पर तीखे मतभेद के बाद NDA से निकलने का फैसला किया. इसके साथ, शिवसेना और तेलुगु देशम पार्टी के बाद एनडीए से निकलने वाला तीसरा दल शिअद हो गया है.

Related Posts