• Home  »  टॉपदेश   »   किसानों के प्रदर्शन के बीच सरकार ने पंजाब-हरियाणा में तत्‍काल शुरू की MSP पर धान खरीद

किसानों के प्रदर्शन के बीच सरकार ने पंजाब-हरियाणा में तत्‍काल शुरू की MSP पर धान खरीद

कृषि विधेयकों के खिलाफ देशभर में किसानों का प्रदर्शन (farmers protests) जारी है. इस बीच केंद्र सरकार ने पंजाब (punjab farmers protest) और हरियाणा (haryana farmer protest) में तत्काल प्रभाव से न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर धान खरीद की घोषणा की है.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 5:04 pm, Sat, 26 September 20
(सांकेतिक तस्वीर)

कृषि विधेयकों के खिलाफ देशभर में किसानों का प्रदर्शन (farmers protests) जारी है. इस बीच केंद्र सरकार ने पंजाब (punjab farmers protest) और हरियाणा (haryana farmer protest) में तत्काल प्रभाव से न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर धान खरीद की घोषणा की है.

दोनों राज्यों में खरीफ की फसल के जल्द आगमन के मद्देनजर सरकार ने यह एलान किया. सभी प्रमुख उत्पादक राज्यों में खरीफ (गर्मी) विपणन सीजन 2020-21 के लिए धान की खरीद का काम एक अक्टूबर से शुरू होने वाला है.

केंद्रीय खाद्य मंत्रालय ने शनिवार को एक बयान में कहा, ‘हालांकि, हरियाणा और पंजाब के ‘मंडियों’ में धान के जल्दी आवक होने के मद्देनजर, भारत सरकार ने इन दोनों राज्यों में आज से यानी 26 सितंबर से धान-चावल के लिए खरीद को मंजूरी दे दी है.

वित्त वर्ष 2020-21 में 495.37 लाख टन चावल खरीदने का लक्ष्य

मंत्रालय के अनुसार, भारतीय खाद्य निगम (FCI) सहित राज्य खरीद एजेंसियां ​​सुचारू रूप से खरीद के लिए तैयार हैं. केंद्र ने चालू वित्त वर्ष के लिए ‘सामान्य किस्म’ के धान के लिए 1,868 रुपये प्रति क्विंटल और ‘ए’ ग्रेड किस्म के लिए 1,888 रुपये प्रति क्विंटल के हिसाब से एमएसपी तय किया है.

सरकार ने खरीफ विपणन सीजन के दौरान पंजाब से 113 लाख टन और हरियाणा से 44 लाख टन चावल खरीदने का लक्ष्य रखा है. सरकार ने 2020-21 खरीफ सीजन में पूरे देश के लिए कुल चावल खरीद का लक्ष्य 495.37 लाख टन रखा गया है.