अरुण जेटली की तबीयत गंभीर, हाल लेने एम्‍स पहुंच रहे पक्ष-विपक्ष के नेता

सूत्रों की मानें तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी अरुण जेटली को देखने के लिए एम्स जा सकते हैं.

पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ बीजेपी नेता अरुण जेटली की हालत गंभीर बताई जा रही है. PMO में राज्‍यमंत्री जितेंद्र सिंह ने शनिवार सुबह एम्‍स पहुंचकर जेटली का हाल लिया. जेटली का हाल जानने बसपा सुप्रीमो मायावती भी AIIMS पहुंची. अभिषेक मनु सिंघवी और शायना एनसी भी अरुण जेटली का हालचाल जानने गए हैं.

बीती रात गृहमंत्री अमित शाह ने दिल्‍ली स्थित एम्‍स जाकर पूर्व वित्‍तमंत्री का हाल जाना. उन्‍होंने लौटकर पीएम नरेंद्र मोदी को ब्रीफ भी किया. शाह के अलावा उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ भी एम्‍स पहुंचे थे.

सूत्रों की मानें तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी अरुण जेटली को देखने के लिए एम्स जा सकते हैं. मालूम हो कि पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली कैंसर से पीड़ित हैं. पिछले दिनों उनकी तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया था. उनकी तबीयत में तो सुधार आ गया लेकिन उन्हें अस्पताल में ही भर्ती रखा. शुक्रवार को एक बार फिर उनकी तबीयत बिगड़ गई है.

राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद भी शुक्रवार सुबह जेटली का हालचाल लेने पहुंचे थे. जेटली के आवास के बाहर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है. इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, लोकसभा के स्पीकर ओम बिड़ला और अन्य शीर्ष भाजपा के नेता जेटली को देखने एम्स जा चुके हैं. स्वास्थ्य का हवाला देते हुए जेटली ने इस साल चुनाव नहीं लड़ा था.

AIIMS ने 9 अगस्‍त को जेटली की हालत पर बुलेटिन जारी किया था. रिपोर्ट्स के मुताबिक, जेटली के फेफड़ों में पानी जमा हो रहा है, इस‍के चलते उन्‍हें सांस लेने में दिक्‍कत हो रही है. जेटली को वेंटिलेटर पर रखने के पीछे यही वजह बताई जा रही है.

ये भी पढ़ें: UN में कश्मीर मुद्दे पर चीन ने दिया पाकिस्तान का साथ तो भारत के समर्थन में रूस ने दोनों को फटकारा