अमित शाह ने AIIMS में लगाई झाड़ू, मरीजों को बांटे फल; जानिए क्या है पीएम मोदी कनेक्शन

अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने अपना पूरा जीवन राष्ट्र की सेवा और गरीबों के लिए काम करने के लिए समर्पित कर दिया है.

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का 17 सितंबर को जन्मदिन है. इस मौक़े पर बीजेपी (भारतीय जनता पार्टी) सेवा सप्ताह का आयोजन कर रही है. शनिवार को गृह मंत्री और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने सेवा सप्ताह की शुरुआत करते हुए एम्स पहुंचकर मरीज़ों का हाल जाना. इतना ही नहीं अमित शाह ने मरीज़ों को फल भी बांटा. इस दौरान कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा भी मौजूद रहे.

बाद में अमित शाह और जेपी नड्डा ने एम्स में सफाई अभियान भी चलाया. उनके साथ केंद्रीय मंत्री विजय गोयल और दिल्ली के विधायक विजेंद्र गुप्ता भी मौजूद रहे.

प्रधानमंत्री मोदी के जन्मदिन को देखते हुए पार्टी ने 14 से 20 सितंबर तक सेवा सप्ताह मनाने का फैसला किया है. सेवा सप्ताह कार्यक्रम के तहत विभिन्न सामाजिक व सेवा के कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा. पार्टी ने इसके लिए तीन नेताओं की एक समिति बनाई है तो सभी आयोजनों को अंतिम रूप दे रही है.

अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने अपना पूरा जीवन राष्ट्र की सेवा और गरीबों के लिए काम करने के लिए समर्पित कर दिया है. इसलिए पार्टी ने फैसला किया है कि उनके जन्मदिन को सेवा सप्ताह के रूप में मनाया जाए.

शाह ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘भाजपा पांच साल से प्रधानमंत्री के जन्मदिन के अवसर पर ‘सेवा सप्ताह’ मना रही है. हमारे प्रधानमंत्री का पूरा जीवन देश की सेवा और गरीबों के लिए काम करने के लिए समर्पित रहा है. इसलिए यह उचित है कि हम उनके जन्मदिन के सप्ताह को सेवा सप्ताह के रूप में मनाएं.’’

शाह ने कहा कि कार्यकर्ता इस अवसर पर सफाई कार्यक्रम, वृक्षारोपण, श्रमदान जैसे कार्यक्रमों का आयोजन कर रहे हैं जिसका पूरा ध्यान समाज की अंतिम कतार में खड़े व्यक्ति के कल्याण से जुड़ा है.

बीजेपी ने ‘सेवा सप्ताह’ मनाने के लिये एक समिति का गठन किया है जिसके संयोजक पार्टी उपाध्यक्ष अविनाश राय खन्ना हैं तथा इसमें केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल, सचिव सुधा यादव व सुनील देवधर शामिल हैं.

सेवा सप्ताह में मुख्य फोकस स्वस्छता व सेवा कार्यक्रमों पर हैं. इस दौरान रक्तदान शिविर, स्वास्थ्य परीक्षण व आंख जांच शिविर, दिव्यांग उपकरण वितरण शिविर, जरूरतमंदों को राहत व मदद कार्यक्रम आदि का आयोजन किया जाएगा. इस मौके पर होने वाले कार्यक्रमों में प्रधानमंत्री मोदी के जीवन व उपलब्धियों संबंधित पुस्तकें, उनके जीवन से जुड़े दुर्लभ चित्र भी लोगों में वितरित किए जाएंगे. प्रदर्शनी, संगोष्ठी व सेमीनार भी आयोजित किए जाएंगे.