SC ने NBCC को आम्रपाली की 2000 यूनिट को बेचने के लिए योजना दाखिल करने को कहा

सुप्रीम कोर्ट ने आम्रपाली की O2 हैली और हार्टबीट सिटी के फॉरेंसिक ऑडिट का आदेश भी दिया है

नई दिल्‍ली: आम्रपाली ग्रुप के अधूरे प्रोजेक्‍ट्स के मामले पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट बुधवार को कई आदेश दिए. सुप्रीम कोर्ट ने NBCC को आम्रपाली की 2000 यूनिट को बेचने के लिए योजना दाखिल करने को कहा है. सुप्रीम कोर्ट ने होम बायर्स से सुझाव भी मांगे हैं कि आम्रपाली के अनसोल्ड फ्लैट को किस तरह बेचा जा सकता है.

आम्रपाली की अब भी 2300 करोड़ की संपत्ति बेची जानी है. सुप्रीम कोर्ट ने आम्रपाली की O2 हैली और हार्टबीट सिटी के फॉरेंसिक ऑडिट का आदेश भी दिया है.

सुप्रीम कोर्ट ने आम्रपाली बायर्स से बकाया राशि जमा करने को कहा है. बकाया राशि जमा करने के लिए यूको बैंक को वेबसाइट पर फॉर्मेट बना कर डालने के लिए भी कोर्ट ने आदेश दिया है.

सुप्रीम कोर्ट ने बैंक को नोटिस जारी कर पूछा कि जिन बायर्स ने लोन लेकर फ्लैट खरीदा है, उनकी लंबित ऋण राशि जारी करने के लिए क्या किया जा सकता है, मामले की अगली सुनवाई 4 अक्टूबर को होगी.

पिछली सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट की रजिस्ट्री को आदेश दिया कि वह एनबीसीसी को फंड दे ताकि अधर में लटके हुए फ्लैट्स का काम हो सके. कोर्ट ने 7.16 करोड़ रुपये देने को कहा था. यह पैसा आम्रपाली ग्रुप ने ही सुप्रीम कोर्ट के पास जमा किया था. जिन दो प्रॉजेक्ट्स के लिए यह पैसा दिया जाएगा वह नोएडा और ग्रेटर नोएडा में हैं.