अमृतसर में ड्रोन से हथियार गिराने में एक और आतंकी अरेस्‍ट, खालिस्‍तानी संगठन से है जुड़ाव

अमृतसर ड्रोन मामले में खालिस्‍तान जिंदाबाद फोर्स के आतंकी सजनप्रीत को पहले ही अरेस्‍ट किया जा चुका है.
अमृतसर, अमृतसर में ड्रोन से हथियार गिराने में एक और आतंकी अरेस्‍ट, खालिस्‍तानी संगठन से है जुड़ाव

अमृतसर ड्रोन मामले में एक और आतंकी को गिरफ्तार किया गया है. चबाल निवासी रॉबिन की स्टेट स्पेशल ऑपरेशन सेल को तलाश थी. रॉबिन को आज अदालत में पेश किया जाएगा. उसके एक साथ सजनप्रीत को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है. इस मामले में अब तक नौ आतंकी गिरफ्तार किए जा चुके हैं.

बताया जा रहा है कि पाकिस्‍तानी ड्रोन को नष्ट करने में रोबिन ने सजनप्रीत का साथ दिया था. सजनप्रीत खालिस्‍तान जिंदाबाद फोर्स का आतंकी है. उसे खालसा कॉलेज के पास से दबोचा गया था.

पंजाब पुलिस ने बीते एक महीने के दौरान भारत-पाक सीमा के पास सीमा पार से दो ड्रोनों के जरिए हथियारों की खेप भेजे जाने के बाद मामले की जांच शुरू कर दी है. पंजाब पुलिस ने 23 सितंबर को खालिस्तान जिंदाबाद फोर्स के चार आतंकियों को अरेस्‍ट किया था. आतंकियों के पास से भारी मात्रा में गोला-बारूद बरामद किया गया था.

अमृतसर से मिला था चीन में बना ड्रोन

पाक स्थित कई आतंकवादी समूह अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद अगस्त से ही हथियारों की तस्करी में संलिप्त थे. दोनों जब्त किए गए ड्रोन शायद पाकिस्तान की ISI से जुड़े विभिन्न आतंकवादी समूहों द्वारा भेजे गए हैं.

अमृतसर जिले के मोहावा गांव में 13 अगस्त को किसी ने फोन कर बताया कि उसने धान की खेत में एक पंखे जैसी वस्तु देखी है. जांच से पता चला कि यह ‘यू10 केवी100-यू’ ड्रोन है और इसे चीनी कंपनी टी मोटर्स ने बनाया है. जांच से पता चला कि इस तरह का हेक्साकॉप्टर(6 इलेक्ट्रिक मोटर) 20-25 किलोग्राम भार क्षमता को ले जाने में सक्षम है.

ये भी पढ़ें

अमृतसर से खालिस्तान जिंदाबाद फोर्स का आतंकी गिरफ्तार, पाक से आये हथियारों को आगे बेचने का शक

Related Posts