भारत का China को कड़ा संदेश, LAC पर सुखोई और मिग लड़ाकू विमानों ने भरी उड़ान

भारतीय वायु सेना (Indian Air Force) के एक स्क्वाड्रन लीडर ने बताया, "इस एयरबेस पर और पूरी वायुसेना में हर एयर वॉरियर पूरी तरह से प्रशिक्षित है और सभी चुनौतियों का सामना करने में सक्षम है."
Apache helicopters Sukhoi, भारत का China को कड़ा संदेश, LAC पर सुखोई और मिग लड़ाकू विमानों ने भरी उड़ान

भारत-चीन (India-China) के बीच गलवान घाटी (Galwan Valley) में हुई हिंसक झड़प के बाद हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं. इस बीच शनिवार को LAC पर फॉरवर्ड एयरबेस (Forward Airbase) एयरफोर्स के सुखोई Su-30MKI और मिग 29 विमानों के साथ अपाचे हेलिकॉप्टर उड़ान भरते नजर आए.

‘सभी चुनौतियों का सामना करने में सक्षम’

LAC के पास फॉरवर्ड एयरबेस पर भारतीय वायु सेना के एक स्क्वाड्रन लीडर ने बताया, “इस एयरबेस पर और पूरी वायुसेना में हर एयर वॉरियर पूरी तरह से प्रशिक्षित है और सभी चुनौतियों का सामना करने में सक्षम है.”

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

फॉरवर्ड एयरबेस से लड़ाकू विमानों के अलावा ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट्स को भी उड़ान भरते देखा गया. इसमें रूस के ईल्यूशिन-76 और एंटोनोव-32 के साथ अमेरिकन सी-17, सी-130 जे शामिल हैं.

‘हर एक पहलु से हैं तैयार’

वायुसेना के एक विंग कमांडर का कहना था कि ‘किसी भी चुनौती से निपटने के लिए हमारे पास सभी तरह के संसाधन मौजूद हैं. भारतीय एयरफोर्स सभी तरह के ऑपरेशन टास्क और सैन्य अभियानों के लिए अपेक्षित सहायता प्रदान करने के लिए हर पहलु से तैयार है.’

पीएम मोदी पहुंचे थे लद्दाख

बता दें कि शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जवानों की हौसला आफजाई और चीन को कड़ा संदेश देने के लिए लेह पहुंचे थे. उन्होंने विस्तारवादी चीन को लताड़ा भी और घायल जवानों से मुलाकात के दौरान कहा कि भारत न किसी के सामने कभी झुका है और न ही झुकेगा.

साथ ही पीएम मोदी ने लद्दाख स्थित नीमू बेस पर थलसेना, वायुसेना और आईटीबीपी के जवानों से मुलाकात की थी. उनके साथ चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत और आर्मी चीफ एमएम नरवणे भी थे. मुलाकात के बाद जवानों ने ‘भारत माता की जय’ और ‘वंदे मातरम’ के नारे लगाए.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

Related Posts