‘महिला को सरेआम मारी गोली और DJ से कहा- 5 हजार रुपये लो और खून साफ कर दो…’

अर्चना गुप्ता मर्डर केस: राजू सिंह के परिवारवालों ने डीजे को तीन से पांच हजार रुपये का ऑफर दिया. लेकिन उन्होंने इसे ठुकरा दिया. इसके बाद...

नई दिल्ली: आर्किटेक्ट अर्चना गुप्ता की दक्षिण दिल्ली स्थित मांडी गांव के एक फार्म हाउस में नए साल के जश्न के दौरान सिर में गोली लगने से मौत हो गई थी. अर्चना पर गोली मारने का आरोप जनता दल (यूनाइडेट) के पूर्व विधायक राजू सिंह पर लगा है. पुलिस ने इस मामले की चार्ज शीट तैयार कर ली है. चार्ज शीट को कोर्ट में अगले हफ्ते पेश किया जा सकता है. इस चार्ज शीट में एक नया खुलासा किया है.

DJs ने ठुकरा दिया था ऑफर
एक पुलिस अधिकारी ने बताया है कि ‘पार्टी में मौजूद डीजे को फर्श पर पड़े खून को साफ करने के लिए 5,000 रुपये का ऑफर दिया गया था. लेकिन डीजे ने इस ऑफर को ठुकरा दिया था. इसके बाद सिंह के परिवारवालों ने ही फर्श पर पड़े खून को साफ किया. ये बात डीजे ने अपने बयान में दर्ज कराई है.’

उन्होंने कहा, “सिंह के परिवारवालों ने डीजे को तीन से पांच हजार रुपये का ऑफर दिया. लेकिन उन्होंने ऐसा करने से इनकार कर दिया. इस पर डीजे को वहां से चले जाने के लिए कहा गया. इसके बाद राजू सिंह की पत्नी रेनू सिंह और उसके भाई राणा राजेश और दोस्त रमिंद्र सिंह ने खून साफ किया. उन्होंने खाली पड़ी कारतूसों को भी उठाया और पास की झाड़ियों में फेंक दिया.”

‘ये एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना थी’
पुलिस अधिकारी ने यह भी बताया कि ‘राजू सिंह ने इस बात से इनकार किया है. राजू का कहना है कि किसी को भी किसी तरह के धन की लालच नहीं दी गई थी. ये महज एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना थी. केवल समय गलत था.’

बता दें कि गोली लगने के बाद अर्चना को इलाज के लिए 31 दिसंबर की रात 12 बजकर 18 मिनट पर गंभीर स्थिति में वसंत कुंज स्थित फोर्टिस अस्पताल में भर्ती कराया गया था. इसकी जानकारी दिल्ली पुलिस को भी दी गई थी. गुरुवार सुबह 9:30 बजे के करीब अर्चना की अस्पताल में मौत हो गई.

ये भी पढ़ें-

तीन साल में लगा सात अरब रुपये का चूना, RTI से ऑनलाइन धोखाधड़ी मामले में बड़ा खुलासा

शिवसेना नेता ने संसद में सुनाया आयुर्वेदिक मुर्गी और अंडे का किस्सा, कहा- शाकाहारी है यह भोजन

मुंबई के डोंगरी में ढही इमारत, 12 लोगों की मौत, 15 परिवारों को बचाने की जद्दोजहद में NDRF