देश की सरहदें सुरक्षित हैं, निगरानी की समीक्षा करने कश्मीर पहुंचे आर्मी चीफ बिपिन रावत

आर्मी चीफ LOC पर तैनात भारतीय सैनिकों का और व्हाइट नाइट कॉर्प्स के जवानों की तत्परता और उनकी वर्तमान स्थिति की समीक्षा करने के लिए वहां पहुंचे.

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत और उत्तरी कमान प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने शनिवार को नियंत्रण रेखा का दौरा किया. आर्मी चीफ LOC पर तैनात भारतीय सैनिकों का और व्हाइट नाइट कॉर्प्स के जवानों की तत्परता और उनकी वर्तमान स्थिति की समीक्षा करने के लिए वहां पहुंचे.

आर्मी चीफ को लेफ्टिनेंट जनरल परमजीत सिंह संघा, जनरल ऑफिसर कमांडिंग, व्हाइट नाइट कोर और कमांडरों ने अपडेट और ब्रीफ किया. जनरल रावत ने यूनिट्स की मिशन तत्परता, सीजफायर उल्लंघन को रोकने के लिए प्रतिक्रिया तंत्र की समीक्षा की. उन्होंने पाकिस्तान के साथ निपटने के लिए अपनाए जाने वाले उपाय, घुसपैठ का सामना करने और नियंत्रण रेखा पर हिंसक कार्रवाई से निपटने की तैयारी की भी समीक्षा की.

इसके अलावा आर्मी चीफी को आतंकी तत्वों से निपटने की रणनीति पर भी जानकारी दी गई, जो पीर पंजाल के दक्षिण में आतंकवाद को पुनर्जीवित करने और निर्दोष युवाओं को कट्टरपंथी बनाने की कोशिश कर रहे हैं.

अपनी यात्रा के दौरान सेना प्रमुख ने नियंत्रण रेखा पर तैनात सैनिकों के साथ बातचीत की और उन्हें कर्तव्य के प्रति अटूट समर्पण, निस्वार्थ समर्पण और ड्यूटी के उच्च स्तर के लिए सराहा. सैनिकों के सुरक्षित वातावरण और मिशन की तत्परता सुनिश्चित करने के लिए संस्थागत रूप से किए गए उनके उपायों और मानक संचालन प्रक्रियाओं की जनरल रावत ने सराहना की.

ये भी पढ़ें: भारतीय सेना के पूर्व सूबेदार का नाम NRC फाइनल लिस्ट में भी नहीं, हाई कोर्ट के फैसले का करेंगे इंतजार