आर्टिकल 370: लोकसभा में मनीष तिवारी ने कांग्रेस को 50 Shades of Grey से कैसे जोड़ा, देखें VIDEO

लोकसभा में आर्टिकल 370 में संशोधन पर गर्मागर्म बहस में कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने एल जेम्‍स की एरॉटिक नॉवेल '50 Shades of Grey' का जिक्र किया.

नई दिल्‍ली: संविधान के अनुच्‍छेद 370 में संशोधन प्रस्‍ताव पर बहस के दौरान मनीष तिवारी ने कांग्रेस का पक्ष रखा. गर्मागर्म बहस में तिवारी ने एल जेम्‍स की एरॉटिक नॉवेल ’50 Shades of Grey’ का जिक्र किया. अपनी पार्टी का स्‍टैंड साफ करते हुए तिवारी ने इस नॉवेल के शीर्षक का सहारा लिया.

दरअसल, जब अमित शाह ने अपना भाषण खत्‍म किया तो उन्‍होंने तिवारी से अपनी पार्टी का स्‍टैंड क्रिस्‍टल क्लियर करने को कहा. उन्‍होंने कहा, “मैं मनीषजी से जरा क्‍लैरिटी चाहता हूं. उन्‍होंने ये नहीं कहा कि कांग्रेस अनुच्‍छेद 370 हटाने के पक्ष में है या नहीं. कृपया यह स्‍पष्‍ट करें.” इसपर मनीष तिवारी ने जवाब दिया, “अंग्रेजी में एक किताब है… हर चीज काली या सफेद नहीं होती… there are 50 shades of grey in between. (बीच में ग्रे के 50 शेड्स होते हैं.)”

इससे पहले बहस के दौरान तिवारी ने कहा कि ‘राज्‍य को तोड़ने के लिए विधानसभा की राय जरूरी है.’ उन्‍होंने कहा कि ‘यूपीए सरकार ने किसी भी तरह नियमों का उल्लंघन नहीं किया.’ बकौल मनीष, ‘जम्मू कश्मीर से कुछ वादे किये गए थे.’

इससे पहले अमित शाह ने लोकसभा में जम्‍मू-कश्‍मीर पुनर्गठन विधेयक पेश किया. उन्‍होंने अपने भाषण में कहा कि “पीओके भारत का हिस्सा है. पीओके के लिए जान दे देंगे. पीओके, अक्साई चीन भारत का हिस्सा है.”

विधेयक के अनुसार, दो केंद्र शासित प्रदेशों- जम्मू एवं कश्मीर और लद्दाख का गठन होगा. मौजूदा जम्मू एवं कश्मीर राज्य के राज्यपाल अब केंद्र शासित जम्मू एवं कश्मीर और केंद्र शासित लद्दाख के उपराज्यपाल होंगे. केंद्र शासित जम्मू एवं कश्मीर में पांच लोकसभा सीटें होंगी. लद्दाख में एक लोकसभा सीट होगी. जम्मू एवं कश्मीर के चार मौजूदा राज्यसभा सदस्य केंद्र शासित जम्मू एवं कश्मीर के सदस्य होंगे. उनके कार्यकाल यथावत रहेंगे.

ये भी पढ़ें

‘ट्रंप ने आपको बुद्धू बना दिया’, अपने ही मुल्क़ में घिर गए हैं इमरान खान

आर्टिकल 370 पर राहुल गांधी ने आखिरकार तोड़ी चुप्‍पी, पढ़ें क्‍या कहा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *