अरुण जेटली की हालत बेहद नाजुक, आडवाणी, हर्षवर्धन, सोनोवाल हाल जानने पहुंचे AIIMS

अरुण जेटली को कार्डियो-न्यूरो सेंटर में एक्सट्रॉकोर्पोरियल मेम्ब्रेन ऑक्सीजनेशन (ECMO) और इंट्रा-एओर्टिक बैलून पंप (IABP) सपॉर्ट पर रखा गया है.

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली (66) की हालत बेहद नाजुक बनी हुई है. जेटली को सांस लेने में परेशानी होने और बेचैनी महसूस होने के बाद 9 अगस्त को अस्पताल में भर्ती किया गया था. AIIMS के सूत्रों के मुताबिक, जेटली को कार्डियो-न्यूरो सेंटर में एक्सट्रॉकोर्पोरियल मेम्ब्रेन ऑक्सीजनेशन (ECMO) और इंट्रा-एओर्टिक बैलून पंप (IABP) सपॉर्ट पर रखा गया है.

Live Updates:

  • अरुण जेटली की सेहत की जानकारी लेने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एडिशनल प्रिंसिपल सेक्रेटरी पी के मिश्रा एम्स गए थे.
  • साथ ही कैबिनेट सेक्रेटरी प्रदीप कुमार सिन्हा एम्स पहुंचे थे.
  • पूर्व केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ भी जेटली को देखने एम्स गए थे.
  • केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन जेटली को हाल-चाल लेने एम्स पहुंचे.
  • असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल भी एम्स गए थे.
  • केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे भी जेटली को देखने एम्स पहुंचे थे.
  • बीजेपी के वयोवृद्ध नेता लालकृष्ण आडवाणी जेटली का हाल जानने एम्स पहुंचे.
  • आडवाणी के साथ उनकी बेटी प्रतिभा आडवाणी भी गई हुई थीं.
  • केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत भी जेटली का हाल जानने के लिए एम्स गए थे.
  • दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और राम विलास पासवान भी अरुण जेटली के स्वास्थ्य की जानकारी लेने के लिए रविवार को एम्स पहुंचे.
  • हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल कलराज मिश्रा, आरएसएस संयुक्त महासचिव डॉ कृष्ण गोपाल और समाजवादी पार्टी के पूर्व नेता अमर सिंह भी एम्स पहुंचे थे.
  • पेशे से वकील जेटली प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पहले कार्यकाल में उनकी कैबिनेट का महत्वपूर्ण हिस्सा थे.
  • जेटली के पास वित्त और रक्षा मंत्रालय का पदभार था.
  • जेटली ने खराब स्वास्थ्य के कारण 2019 का लोकसभा चुनाव नहीं लड़ा.
  • पिछले साल 14 मई को जेटली का एम्स में किडनी ट्रांसप्लांट हुआ था.

ये भी पढ़ें-

PM मोदी ने डोनाल्ड ट्रंप से फोन पर की बातचीत, नाम लिए बिना पाकिस्तान पर साधा निशाना

बालाकोट एयरस्ट्राइक के वक्त पाकिस्तान में घुसकर युद्ध के लिए तैयार थी भारतीय सेना

इमरान खान ने अपने ही ‘बॉस’ का कार्यकाल 3 साल बढ़ाया