दिल्ली अग्निकांड: CM केजरीवाल ने की 10 लाख के मुआवजे की घोषणा, PMO-BJP भी देंगे सहायता राशि

पीएम नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री राहत कोष से मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये सहायता राशि देने की घोषणा की है.

दिल्ली के अनाज मंडी इलाके में रविवार को अचानक भीषण आग लग गई. इस हादसे में 43 लोगों की मौत हो गई है. साथ ही कई लोग गंभीर रूप से घायल भी हुए हैं. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मृतकों के परिजनों के लिए 10-10 लाख और घायलों के लिए 1-1 लाख रुपये मुआवजे का ऐलान भी किया है.

पीएम नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री राहत कोष से मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये सहायता राशि देने की घोषणा की है. साथ ही गंभीर रूप से घायलों के लिए 50-50 हजार रुपये की सहायता की घोषणा की गई है.

बीजेपी ने भी 5-5 लाख रुपये की सहायता राशि देने की घोषणा की है. वहीं, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य से ताल्लुक रखने वाले पीड़ितों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये की वित्तीय मदद देने के लिए कहा है.

सीएम केजरीवाल ने आग की घटना की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए हैं. केजरीवाल ने ट्विटर पर कहा, “इस दुखद आग की घटना में हमने 40 निर्दोष जानों को खोया है. मैंने मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दे दिए हैं, किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा.”

आग में मारे गए सभी लोग मजदूर थे और जब सुबह 4.30 और 5 बजे के बीच आग लगी तब वे सो रहे थे. पुलिस ने कहा कि कारखाने के मालिक के खिलाफ एक आवासीय क्षेत्र से बैग विनिर्माण इकाई के संचालन और सुरक्षा मानदंडों का पालन नहीं करने के लिए प्राथमिकी दर्ज कर दी गई है.

अग्निशमन विभाग ने बताया कि बाजार में आग लगने की सूचना उन्हें सुबह करीब 5.22 पर मिली, जिसके बाद 25 दमकल गाड़ियां मौके पर पहुंच गईं. आग लगने की वजह का पता नहीं चल पाया है, लेकिन अधिकारियों का कहना है कि आग शॉर्ट सर्किट की वजह से लग सकता है.

दिल्ली अग्निशमन विभाग के प्रमुख अतुल गर्ग ने कहा कि, आग लगने से करीब 40 लोगों की मौत हो गई, आग एक बैग बनाने वाले कारखाने लगी है, वहीं आग आसपास की दो अन्य इमारतों में फैल गई है. मरने वालों की संख्या बढ़ने की आशंका है.

पुलिस ने बताया कि कारखाने के मालिक के खिलाफ आवासीय क्षेत्र से बैग बनाने के कारखाने के संचालन और सुरक्षा मापदंडों का पालन न करने को लेकर मामला दर्ज कर लिया गया है.

ये भी पढ़ें-

दिल्ली का सबसे बड़ा अग्निकांड, सोते-सोते घुटा 43 लोगों का दम, हादसे की न्यायिक जांच के आदेश

उन्नाव गैंगेरप-मर्डर: कमिश्नर के वादे पर माना परिवार, हजारों नम आंखों ने दी पीड़िता को अंतिम विदाई