थप्पड़, अंडा तो कभी स्याही.. 13वीं बार केजरीवाल हमले के शिकार, जानिए कब-कब बने टारगेट

अरविंद केजरीवाल पर एक बार फिर हमला हुआ. दिल्ली में प्रचार के दौरान उन्हें शख्स ने थप्पड़ मारा. ये केजरीवाल पर 13वां हमला था.

दिल्ली में लोकसभा चुनाव के दौरान प्रचार कर रहे केजरीवाल फिर थप्पड़ कांड के शिकार हो गए. इससे पहले भी उन्हें ऐसे हादसों का शिकार होना पड़ा है.

ताज़ा मामला नई दिल्ली लोकसभा सीट के मोती नगर इलाके का है जहां केजरीवाल एक रोड शो के दौरान वाहन पर सवार थे और हाथ हिलाकर समर्थकों का अभिवादन कर रहे थे. इसी दौरान लाल रंग की टी-शर्ट पहने एक युवक उनके वाहन पर चढ़ने में सफल हो गया और उसने उन्हें थप्पड़ जड़ दिया. वहां उपस्थित आप कार्यकर्ताओं ने युवक को तत्काल वाहन से नीचे खींच लिया और उसे पुलिस को सौंप दिया. युवक कौन है, फिलहाल उसकी पहचान नहीं हो पाई है. इससे पहले भी केजरीवाल पर हमले हो चुके हैं. आइए बताते हैं आपको कि कब कब अरविंद पर हमले हो चुके हैं.

दिसंबर 2018 में दिल्ली सचिवालय में चैंबर से बाहर निकलने के दौरान उन पर अनिल शर्मा नाम के शख्स ने अचानक मिर्च पाउडर फेंक दिया था. अनिल सीएम को किसी समस्या के बारे में खत देने आया था. सीएम जैसे ही रुके वो उनके पैरों पर गिर गया. इस पर सीएम ने रोकने की कोशिश की तो इसमें उसका चश्मा गिरकर टूट गया. इसके बाद अनिल ने केजरीवाल के ऊपर मिर्च पाउडर फेंका.

अप्रैल  2016 में भी दिल्ली सचिवालय में ही पत्रकार वार्ता के दौरान उन पर जूता चला था. जूता फेंकने वाला आम आदमी सेना का कार्यकर्ता वेदप्रकाश शर्मा था. जूते के अलावा केजरीवाल की तरफ सीडी भी उछाली गई.

दिल्ली ही नहीं केजरीवाल पर पंजाब में भी हमला हुआ. फरवरी 2016 में लुधियाना में केजरीवाल की कार पर कुछ लोग रॉड और डंडे लेकर टूट पड़े थे. इस हमले में उनकी कार के सामनेवाला शीशा टूट गया था.

जनवरी 2016 में भी ऐसा ही एक वाकया घटा. दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में ऑड ईवन फॉर्मूले के 15 दिवसीय ट्रायल की कामयाबी का जश्न मनाया जा रहा था. केजरीवाल जब मंच से लोगों को संबोधित कर रहे थे तो उन पर स्याही फेंक दी गई. ऐसा करने वाली एक महिला थी.

27 दिसंबर 2014 को दिल्ली में एक रैली थी. अरविंद केजरीवाल पर किसी ने पत्थर फेंक दिया. खुशकिस्मती से उन्हें चोट नहीं आई. ठीक एक दिन पहले 26 दिसंबर 2014 को उन पर एक रैली में अंडे भी फेंके गए थे.

मार्च 2014 में हरियाणा के भिवानी में रोड़ शो कर रहे अरविंद केजरीवाल की जीप पर चढकर एक शख्स ने उनकी गर्दन पर वार किया था. शख्स ने खुद को अन्ना हजारे का समर्थक बताया था.

अप्रैल 2014 में ही दिल्ली में चुनाव प्रचार चल रहा था. केजरीवाल सुल्तानपुरी में प्रचार करने पहुंचे थे. अचानक तेज़ी से एक ऑटो ड्राइवर जीप पर चढ़ा और किसी के संभलने से पहले केजरीवाल को तमाचा जड़ दिया. इसके बाद सीएम केजरीवाल ऑटो ड्राइवर से मिलने उसके घर गए और गुलदस्ता भेंट किया. बदले में ड्राइवर ने उनसे माफी मांगी.

मार्च 2014 में लोकसभा चुनाव के दौरान वाराणसी पहुंचे केजरीवाल पर स्याही फेंकी गई थी. उनकी गाड़ी पर अंडे भी मारे गए.

5 मार्च 2014 को अहमदाबाद में भी लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान केजरीवाल पर पत्थर चले जबकि 18 नवंबर 2013 को एक शख्स ने उन पर काला पेंट फेंक दिया था. उसने खुद का नाम नचिकेता बताया. 18 अक्टूबर 2011 को लखनऊ में केजरीवाल पर चप्पल फेंकी गई और 26 दिसंबर 2014 को रैली में अंडे फेंके गए.