VIDEO: बच्चों को जरिया बना सियासत कर रही केजरीवाल सरकार? BJP ने लगाया आरोप

कपिल मिश्रा ने उपराज्यपाल और मुख्य चुनाव अधिकारी दिल्ली को पत्र भेजकर स्कूलों में हो रही राजनैतिक मीटिंगों पर रोक लगाने की मांग की है.

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी ने अरविंद केजरीवाल सरकार पर आरोप लगाया है कि उनकी पार्टी सरकारी स्कूलों के जरिए अपना चुनाव प्रचार कर रही है और वोट मांग रही है.

कहा जा रहा है कि केजरीवाल ने सभी स्कूलों में भेजा निर्देश भेजकर हर बच्चे के माता पिता को राजनीति संदेश देने की कोशिश है. बीजेपी आरोप लगा रही है कि यह पत्र दिल्ली सरकार की तरफ से SMC को पत्र भेजा गया कि वे अभिभावकों से बात करें तो इन बिंदुओं का ध्यान रखें.

इस मामले को लेकर कपिल मिश्रा ने उपराज्यपाल और मुख्य चुनाव अधिकारी दिल्ली को पत्र भेजकर स्कूलों में हो रही राजनैतिक मीटिंगों पर रोक लगाने की मांग की है. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, “21 जून से 24 जून हर माता पिता को स्कूल बुलवा कर केजरीवाल को वोट देने की कसम खिलवाने का लिखित निर्देश भेजा गया. इसे तुरंत रोकिए, ये सरकारी स्कूलों में गैरकानूनी हरकत हैं अगर इसे नहीं रोक गया तो हमें कोर्ट जाना पड़ेगा.”

बीजेपी के वरिष्ठ नेता विजेंद्र गुप्ता ने ट्वीट कर कहा ‘दिल्ली सरकार के स्कूलों के प्रांगण मे सरकारी खर्च से आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता और नेता अभिभावको को जबरन बुलाकर आने वाले विधानसभा चुनावों मे आम आदमी पार्टी के उम्मीदवारों को वोट देने का पाठ पढ़ाएंगे. भाजपा विधायक उप राज्यपाल से मिलकर हस्तक्षेप की मांग करेंगे.

हालांकि प्री बजट मीटिंग के बाद SMC को पत्र लिखे जाने की खबर पर मनीष सिसोदिया ने बयान दिया है कि, बीजेपी खुद स्क्रिप्ट लिखती है और खुद फाड़ती है.

वहीं इस मामले पर आप नेता आतिशी का कहना है कि “कोई एक वाट्सएप मैसेज सुबह से वायरल है हो रहा है, जिसके जनक कपिल मिश्रा है़ और हमारे पूर्व विधायक अनिल वाजपेयी जी हैं. सिर्फ एक स्कूल में ये पर्चे पाए गए हैं, जोकि फर्जी हैं. बीजेपी शिक्षा क्रांति में बाधा पहुंचा रही है.”

आम आदमी पार्टी और दिल्ली सरकार की तरफ से इस तरह के पत्र भेजे जाने का खंडन किया गया है.