दिल्‍ली के 13 लाख लोगों के पुराने वाटर बिल माफ, केजरीवाल सरकार का बड़ा फैसला

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्‍ली के कुल 23.73 लाख उपभोक्‍ताओं में से 13.5 लाख का बिल बकाया है. वह खुद इन कंज्‍यूमर्स को चिट्ठी लिखेंगे.

दिल्‍ली में विधानसभा चुनाव से पहले अरविंद केजरीवाल सरकार ने बड़ा फैसला किया है. दिल्‍ली जल बोर्ड के अकाउंट्स को क्लियर करने के लिए बकाया माफ करने की योजना शुरू की गई है. केजरीवाल ने मंगलवार को एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में इसकी जानकारी दी.

पीसी में दिल्‍ली सीएम ने कहा, “लोगों का पानी का बकाया बहुत बढ़ गया है. बिलिंग सिस्टम में कमी के चलते ऐसा है, लोगों की शिकायत है. नए सिस्टम से 5-7 साल के पुराने बिल रिफ्लेक्ट हुए. गलती हमारी और जनता दोनो की हो सकती है. हम नई योजना लांच कर रहे हैं. जिनके घर मे चालू मीटर हैं उनको लाभ मिलेगा.”

यह योजना 30 नवंबर तक लागू रहेगी. नए लगे मीटर भी इसमें शामिल होंगे. ऐसे लोगों को सारा लेट पेमेंट सरचार्ज माफ होगा. केजरीवाल ने कहा कि जो भी 30 सितंबर तक मीटर लगवा लेगा, उसे भी इस योजना का लाभ मिलेगा.

यूं माफ होगा दिल्‍ली के लोगों का बकाया बिल

A and B कैटेगरी – LPSC- 100% माफ़, 25 प्रिंसिपल अमाउंट माफ

C कैटेगरी – LPSC- 100% माफ़, 50 प्रिंसिपल अमाउंट माफ

D कैटेगरी- LPSC- 100% माफ़, 75% प्रिंसिपल अमाउंट माफ

E, F, G, H कैटेगरी के लोगों का ( 10.5 लाख उपभोक्ता) 100% प्रिंसिपल अमाउंट 31 मार्च तक माफ

केजरीवाल ने कहा कि कुल 23.73 लाख उपभोक्‍ताओं में से 13.5 लाख का बिल बकाया है. उन्‍होंने कहा कि घरेलू उपभोक्‍ताओं का 2,500 करोड़ रुपये जबकि कॉमर्शियल कंज्‍यूमर्स का 1,500 रुपये बकाया है. उन्‍होंने कहा कि दिल्‍ली सरकार के इस कदम से 600 करोड़ रुपये की आमदनी जल बोर्ड को होगी. उन्‍होंने यह भी कहा कि वह खुद इन कंज्‍यूमर्स को चिट्ठी लिखेंगे.

ये भी पढ़ें

कृष्ण की स्टाइल में बजाओ बांसुरी तो ज्यादा दूध देगी गाय: वरिष्ठ बीजेपी नेता

जूस बढ़ा सकता है बच्चों की परेशानी, पढ़िए क्या कहते हैं सेहत के एक्सपर्ट