‘रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ’, दिल्ली में प्रदूषण रोकने के लिए सीएम केजरीवाल की नई मुहिम

अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने कहा, "आज से एक नया कैंपेन शुरू करने जा रहे हैं. रोजाना लाल बत्ती के ऊपर जब हम अपनी गाड़ी खड़ी करते हैं उस वक्त अपनी गाड़ी बंद नहीं करते हैं. उस समय गाड़ी से कितना धुंआ निकलता है."

दिल्ली (Delhi) के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने गुरुवार को प्रदूषण (Pollution) के मुद्दे पर प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इन दौरान उन्होंने कहा कि पराली जलने का सिलसिला फिर से चालू हो गया है. सीएम केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में पहुंच गया तो फिर भी कम हो जाता होगा, लेकिन जिन गांव में जला दी जाती होगी वहां के किसानों का क्या हाल होता होगा.

केजरीवाल ने कहा, “साल दर साल की कहानी चलती आ रही है. पराली जलाने से धुआं दिल्ली आ रहा है, उसके बारे में तो हम कुछ नहीं कर सकते हैं. लेकिन दिल्ली में अपना प्रदूषण कम करने के लिए जो जो कदम हम उठा सकते हैं, वह उठा रहे हैं.”

‘आज से शुरू कर रहे एक नया कैंपेन’

अरविंद केजरीवाल ने कहा, “रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ कैंपेन शुरू कर रहे हैं. आज से एक नया कैंपेन शुरू करने जा रहे हैं. रोजाना लाल बत्ती के ऊपर जब हम अपनी गाड़ी खड़ी करते हैं उस वक्त अपनी गाड़ी बंद नहीं करते हैं. उस समय गाड़ी से कितना धुंआ निकलता है.”

जल रही पराली का असर, ‘बहुत खराब’ हुई दिल्ली-एनसीआर की हवा-AQI 300 पार

उन्होंने कहा कि सोचो कि दिल्ली में एक करोड़ वाहन रजिस्टर्ड हैं. रोजाना 30 से 40 लाख वाहन भी दिल्ली की सड़कों पर आते होंगे और वह लाल बत्ती पर धुआं छोड़ते होंगे तो कितना धुआं होता होगा. कि यानी लाल बत्ती पर गाड़ी बंद रखना होगा.


‘प्रदूषण रोकने के लिए उठाए कई कदम’

सीएम केजरीवाल ने कहा, “दिल्ली में प्रदूषण कम करने के लिए हमने बहुत से कमद उठाए हैं. इसके तहत राजधानी दिल्ली में बसों की संख्या बढ़ाई गई है. दिल्ली में पराली को नष्ट करने के लिए कदम उठाया है. ट्री-प्लानटेंशन नीति लागू की है. इलेक्ट्रिक वाहन नीति लागू की है. इससे इलेक्ट्रिक वाहन बढ़ेंगे. हमने प्रयास कर 25 फीसद तक प्रदूषण कम किया है.”

उन्होंने यह भी कहा कि दिल्ली का हर नागरिक प्रदूषण कम करे तो यह जनहित में होगा. कोरोना में वैसे ही लोग दुखी हैं, अगर प्रदूषण बढ़ गया तो जानलेवा हो सकता है.

प्रदूषण रोकने के लिए दिल्ली में कल से लागू होगा GRAP

Related Posts