दिल्ली में कर्मपुरा में रोड शो के दौरान अरविंद केजरीवाल को युवक ने मारा थप्पड़

इससे पहले अरविंद केजरीवाल को एक रोड शो के दौरान 2014 में एक ऑटो ड्राइवर ने थप्पड़ जड़ा था.

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक अरविंद केजरीवाल को यहां एक रोड शो के दौरान एक अज्ञात हमलावर ने थप्पड़ मार दिया. केजरीवाल पश्चिम दिल्ली के मोती नगर इलाके में पार्टी उम्मीदवार बलबीर सिंह जाखड़ के साथ प्रचार कर रहे थे. वह एक रोड शो के लिए जैसे ही एक खुली जीप पर सवार हुए, मरून रंग का टी-शर्ट पहने एक व्यक्ति ने जीप के बोनट पर चढ़कर उन्हें थप्पड़ मार दिया.

आप कार्यकर्ताओं और समर्थकों ने कथित हमलावर को पकड़ लिया. दिल्ली पुलिस हमलावर से पूछताछ कर रही है. केजरीवाल की सुरक्षा में सेंध का यह पहला मामला नहीं है, इससे पहले भी उन पर मिर्च फेंककर, जूता उछालकर और थप्पड़ के जरिये हमले हो चुके हैं.

आम आदमी पार्टी (AAP) नेता संजय सिंह (Sanjay Singh) ने अरविंद केजरीवाल को थप्पड़ मारे जाने पर विरोध जताते हुए लिखा कि, ‘दिल्ली के मुख्यमंत्री की सुरक्षा मोदी सरकार के अधीन है लेकिन उनका जीवन सबसे असुरक्षित है बार बार हमला और फिर पुलिस का रोना क्या साज़िश है इसके पीछे? हिम्मत है तो सामने आकर वार करो दूसरों को हथियार बनाकर नहीं.’

वहीं दूसरी तरफ थप्पड़ मारने वाले सुरेश की पत्नी ममता ने कहा कि उसे नहीं पता कि उन्होंने थप्पड़ क्यों मारा. ममता के मुताबिक सुरेश मोदी के खिलाफ कुछ नहीं सुनना चाहता था और जो मोदी की बुराई करता था तो उसे गुस्सा आता था. वहीं सुरेश के बहनोई हंसराज गादिया लोहार का कहना था कि, “सुरेश मेरे साथ सब कुछ शेयर करता था, लेकिन मुझे कभी नहीं बताया कि वह ऐसा कुछ करेगा. लेकिन उसने मुझसे एक बार कहा था कि नेता लम्बे-चौड़े वादे करते हैं लेकिन कोई उन्हें पूरा नहीं करता, वह किसी भी राजनीतिक दल से नहीं जुड़ा है.”

2014 में ऑटो ड्राइवर ने मारा था थप्पड़

2014 में जब लोकसभा चुनावों के लिए केजरीवाल दिल्ली में रोड शो निकाल रहे थे तब एक ऑटो ड्राइवर ने उन्हें थप्पड़ जड़ा था. थप्पड़ मारने वाला व्यक्ति अपने हाथ में माला लेकर केजरीवाल की तरफ बढ़ा था और माला पहनाने के बाद उसने केजरीवाल के थप्पड़ मार दिया था.

आंख में फेंकी गई थी लाल मिर्च

दिल्ली के नारायणा विहार में एक व्यक्ति ने अपनी फरियाद सुनाने के दौरान केजरीवाल की आंख में लाल मिर्च पाउडर फेंक दिया था. नवंबर 2018 में एक युवक अपनी समस्या को लेकर मुख्यमंत्री केजरीवाल से मिलने गया था और मिलने के दौरान उसने मुख्यमंत्री पर मिर्च पाउडर फेंक दिया था. इस दौरान केजरीवाल का चश्मा भी टूट गया था.

पत्थर और अंडों से हुआ था विरोध

पंजाब के लुधियाना में फरवरी 2016 में उनकी कार पर लोहे की रॉड और अंडों से हमला किया गया था, जिसमें कार के शीशे टूट गए थे.

लुधियाना में गाड़ी पर हुआ था हमला

फरवरी 2016 में अरविंद केजरीवाल की कार पर कुछ लोगों ने लोहे की रॅाड से हमला किया था.

जब फेंका गया था जूता

अप्रैल 2016 में दिल्ली में एक प्रेस कॅान्फ्रेंस के दौरान केजरीवाल पर जूता फेंका गया था. दिल्ली सचिवालय में अप्रैल 2016 में एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान उनकी ओर जूता उछाल कर विरोध जताया गया था.

ये भी पढ़ें, अक्षय कुमार ने कनाडा की नागरिकता पर सच बोला या झूठ? पूरी पड़ताल