‘असम में 40 लाख से ज्यादा अवैध पलायनकर्ता थे, अब 19 लाख कैसे रह गए’? ओवैसी का बीजेपी से सवाल

असम में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर की फाइनल लिस्ट शुक्रवार को जारी कर दी गई. इस लिस्ट में 3.11 करोड़ लोगों को जगह दी गई है, जबकि असम में रहने वाले 19.06 लाख लोग इससे बाहर रखे गए हैं.

नई दिल्ली: असम में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) की फाइनल लिस्ट आने के बाद AIMIM अध्यक्ष असदुद्दीन ​ओवैसी केंद्र सरकार पर हमला बोला है. ओवैसी ने सवाल किया है कि बीजेपी पहले दावा कर रही थी कि राज्य में 40लाख से ज्यादा अवैध पलायनकर्ता थे और अब सिर्फ 19 लाख कैसे रह गए.

असम में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर की फाइनल लिस्ट शुक्रवार को जारी कर दी गई. इस लिस्ट में 3.11 करोड़ लोगों को जगह दी गई है, जबकि असम में रहने वाले 19.06 लाख लोग इससे बाहर रखे गए हैं. लिस्ट आने के बाद नेताओं और आम लोगों की प्रतिक्रियाएं भी आने लगी हैं. लिस्ट में जगह नहीं पाने वाले कुछ लोगों ने जहां एक ओर न्यायपालिका पर भरोसा जताया है, तो वहीं AIMIM अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने सवाल किया है कि भारतीय जनता पार्टी पहले दावा कर रही थी कि राज्य में 40 लाख से ज्यादा अवैध पलायनकर्ता हैं, तो अब सिर्फ 19 लाख कैसे रह गए.

ओवैसी ने कहा है कि बीजेपी को सबक लेना चाहिए. उन्होंने कहा, ‘उन्हें NRC के लिए हिंदू-मुस्लिम के नाम पर बात करनी बंद करनी चाहिए. उन्हें असम में जो हुआ उससे सबक लेना चाहिए. अवैध पलायनकर्ताओं का मिथक टूट चुका है.’ उन्होंने आशंका जताई कि बीजेपी नागरिक संशोधन बिल के जरिए ऐसे बिल ला सकती है जिसमें वे गैर-मुस्लिमों को नागरिकता दे सकती है. उन्होंने इससे समानता के अधिकार का उल्लंघन बताते हुए चिंता जताई.

उन्होंने कहा कि असम में कई लोगों ने उन्हें बताया है कि लोगों के माता-पिता के नाम लिस्ट में हैं, लेकिन बच्चों के नाम नहीं है. उन्होंने कहा कि अभी तक बीजेपी दावा कर रही थी कि राज्य में 40 लाख से ज्यादा अवैध पलायनकर्ता हैं लेकिन लिस्ट में सिर्फ 19 लाख लोगों के नाम सामने आए हैं. इनमें से करीब 3 लाख लोग ऐसे हैं जिन्होंने दस्तावेज जमा नहीं किए हैं. उनके दस्तावेज जमा कर देने के बाद यह आंकड़ा और भी कम हो जाएगा. उन्होंने सवाल किया कि आखिर 40 लाख लोग कहां गए.

असदुद्दीन ओवैसी ने वर्तमान जीडीपी पर अपना प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि 5.8% से 5% पर आ गया कौन जिम्मेदार है? बीजेपी को वोट देने वालों को इशारा करते हुए कहा कि अभी भी आपलोग हर-हर मोदी बोलिये और ओवैसी मुर्दाबाद बोलिये, मिठाइयां बांटिए. बीजेपी में पूरा सन्नाटा है, कोई कुछ बोल नहीं रहा है. नौकरियां नहीं है, बिस्कुट भी नहीं खरीद सकते, कंपनियों से निकाला जा रहा है, बेरोजगार होकर अपने अपने गावों को जा रहे हैं. बीजेपी ये सब छोड़कर हिन्दू मुस्लिम में लड़ा रही है. जीडीपी 5% पर आ गया है और बीजेपी 5 ट्रिलियन की बात कर रही है.