चीन पर रक्षा मंत्री के बयान को ओवैसी ने बताया ‘घिनौना मजाक’, कहा देश के सामने आए सच्चाई

असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने कहा कि चीन पर राजनाथ सिंह की सफाई पर मुझे बोलने की अनुमति नहीं थी. अगर मेरे पर अनुमति होती तो मैं पूछता कि रक्षा मंत्री क्यों नहीं कहते कि चीन ने हमारी जमीन को कब्जा किया.
Rajnath singh statement on china, चीन पर रक्षा मंत्री के बयान को ओवैसी ने बताया ‘घिनौना मजाक’, कहा देश के सामने आए सच्चाई

भारत-चीन सीमा विवाद को लेकर AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने रक्षामंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) पर हमला बोला है. ओवैसी ने कहा कि राजनाथ सिंह का बयान राष्ट्रीय सुरक्षा के नाम पर ‘घिनौना मजाक’ है. उन्होंने कहा कि राजनाथ सिंह का बयान बेहद कमजोर और अपर्याप्त है.

ओवैसी ने कहा कि चीन पर राजनाथ सिंह की सफाई पर मुझे बोलने की अनुमति नहीं थी. अगर मेरे पर अनुमति होती तो मैं पूछता कि रक्षा मंत्री क्यों नहीं कहते कि चीन ने हमारी जमीन को कब्जा किया. भारत के 20 जवान शहीद हो गए. उनकी शहादत और चीन के अवैध कब्जे का जिम्मेदार कौन है.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सर्वदलीय बैठक में कहा था कि चीन ने हमारे क्षेत्र में कब्जा नहीं किया है और कोई घुसपैठ नहीं हुई है. फिर गलवान में हमारी 20 सैनिकों की शहादत कैसे हुई. सरकार इस मामले में आखिर सही बात क्यों नहीं बता रही है? सरकार बताए कि उस रात क्या हुआ था?

हर रोज की ब्रीफिंग हो

AIMIM चीफ ने कहा कि यह भारत और चीन के बीच का मामला है. इसमें आखिर रूस की मध्यस्थता की क्या जरूरत थी? इस तरह की मध्यस्थता क्या आप अन्य देशों के साथ स्वीकार करेंगे. ओवैसी ने कहा कि देश जानना चाहती है कि सरकार आखिर क्या कर रही है? ओवैसी ने यह भी मांग उठाई कि इन मामलों की हर रोज ब्रीफिंग होनी चाहिए.

Related Posts