पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की पहली पुण्‍यतिथि, राष्‍ट्रपति-पीएम समेत इन नेताओं ने श्रद्धांजलि

अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, बीजेपी के कार्यकारी अध्‍यक्ष जेपी नड्डा समेत पार्टी के कई नेता पहुंचे.

आज पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की पहली पुण्‍यतिथि है. इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत भारतीय जनता पार्टी के दिग्‍गज नेताओं ने वाजपेयी के समाधि स्‍थल ‘सदैव अटल’ पर उन्‍हें श्रद्धासुमन अर्पित किए. वाजपेयी का पिछले साल लंबी बीमारी के बाद 16 अगस्‍त को AIIMS में निधन हो गया था. वह 93 वर्ष के थे.

अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, बीजेपी के कार्यकारी अध्‍यक्ष जेपी नड्डा समेत पार्टी के कई नेता पहुंचे थे. वाजपेयी की बेटी नमिता कौल भट्टाचार्य और पोती निहारिका भी इस कार्यक्रम में मौजूद रहीं. प्रधानमंत्री मोदी ने वाजपेयी के परिवार से भी मुलाकात की.

Atal Bihari Vajpayee Death Anniversary, Atal Bihari Vajpayee Punya tithi, Atal Bihari Vajpayee News in Hindi, Atal Bihari Vajpayee Latest News, Atal Bihari Vajpayee And Narendra Modi

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने वाजपेयी को याद करते हुए ट्वीट कर कहा, “अपने समय के सबसे बड़े नेता को मैं अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं.” ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ममता बनर्जी और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने भी ट्विटर पर वाजपेयी को श्रद्धांजलि दी.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता ने कहा, “पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी को उनकी पहली पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि. आइए हम उनके शब्दों को याद करें : बंदूक से कोई समस्या नहीं सुलझ सकती. मुद्दों को इन्सानियत, जम्हूरियत और जमीयत के तीन सिद्धांतों द्वारा सुलझाया जा सकता है.”

1998-2004 के बीच राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) सरकार का नेतृत्‍व करने वाले वाजपेयी BJP के पहले ऐसे नेता थे जो प्रधानमंत्री बने. वाजपेयी तीन बार प्रधानमंत्री रहे. पहली बार 1996 में 13 दिन के लिए, फिर 1998 में 13 महीनों के लिए और अंतिम पूर्ण कार्यकाल 2004 में समाप्‍त हुआ.

वाजपेयी का जन्‍मदिन, 25 दिसंबर को ‘गुड गवर्नेंस डे’ के रूप में मनाया जाता है. अटल बिहारी वाजपेयी को 2014 में राष्‍ट्र का सर्वोच्‍च नागरिक सम्‍मान ‘भारत रत्‍न’ दिया गया था.