अयोध्या मामला: बदली गई बैठक की जगह, पुनर्विचार याचिका दाखिल करने पर अहम फैसला आज

पुनर्विचार याचिका पर ऑल इण्डिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड रविवार अपनी वर्किंग कमेटी की बैठक में निर्णय लेगा.
Ayodhya verdict, अयोध्या मामला: बदली गई बैठक की जगह, पुनर्विचार याचिका दाखिल करने पर अहम फैसला आज

अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले पर पुनर्विचार याचिका दाखिल किया जाएगा. शनिवार को मुस्लिम पक्षकारों ने लखनऊ स्थित इस्लामिक शिक्षण केंद्र दारुल उलूम नदवातुल उलेमा (नदवा कॉलेज) में बैठक की, जहां पर यह फ़ैसला लिया गया.

हालांकि मुस्लिम पक्षकार रहे इकबाल अंसारी ने इस बैठक का बहिष्कार किया. अंसारी शनिवार को बैठक में भाग लेने के लिए नहीं गए और पूरे दिन अपने घर पर मौजूद रहे.

बता दें कि इस बैठक में जफरयाब जिलानी ने भी हिस्सा लिया.

पुनर्विचार याचिका पर ऑल इण्डिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड रविवार अपनी वर्किंग कमेटी की बैठक में निर्णय लेगा.

LIVE Updates

# सूत्रों के मुताबिक मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के अध्यक्ष राबे हसन नदवी बीमार हैं और बोर्ड पर एक गुट ने क़ब्ज़ा कर लिया है, जो ओवैसी की लाईन पर चल रहे हैं.

# बैठक के सदस्य नई जगह पहुंच गए है. मुमताज पीजी कॉलेज में हो रही है बैठक.

# मौलाना सुफियान निजामी ने स्पष्ट करते हुए कहा है कि बैठक की जगह बदली गयी है. उन्होंने कहा कि बोर्ड मीटिंग के लिए कोरम जरूरी है सदस्यों में कोई मतभेद नही है. बैठक किसी जगह चल रही है मीडिया को जानकारी एक घंटे पहले दे दी जाएगी.

# पहले बोर्ड की बैठक नदवा कॉलेज में होनी थी अब कहीं और रखी जा रही है सब सदस्य नदवा पहुंचे थे लेकिन अब निकल कर जा रहे है. ऐन टाइम पर जगह बदली गयी है.

# सुन्नी वक्फ बोर्ड इस बैठक में नहीं पहुंचा है. सुन्नी वक्फ बोर्ड को बैठक में बुलाया गया था.

# महमूद मदनी, असदुद्दीन ओवैसी, राबे हसन, मौलाना जलालुद्दीन उमरी, आसमां ज़हरा, आरिफ़ मसूद (विधायक, मध्य प्रदेश), उमरैन महफूज़, वली रहमानी बैठक में शामिल होने पहुंचे हैं.

बोर्ड के महासचिव मौलाना वली रहमानी इन पक्षकारों से हुई बातचीत का ब्योरा पेश करेंगे. हालांकि, इकबाल अंसारी और सुन्नी वक्फ बोर्ड ने बैठक से खुद को किनारा कर लिया है. बाबरी मस्जिद मामले में 4 वादी मुलाकात में मौजूद रहेंगे.

हालांकि, फिरंगी महली,कल्वे जव्वाद और इकबाल अंसारी सरीखे नेता नहीं चाहते कि फैसले पर पुर्नविचार अर्जी दाखिल की जाए. आखिरी फैसला रविवार को होने वाली आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की बैठक में किया जाएगा.

Related Posts