‘जय श्री राम’ बोल आडवाणी-जोशी ने बांटे लड्डू, बाबरी केस में बरी आरोपियों ने क्या कहा

बाबरी मस्जिद विध्वंस केस में सभी 32 आरोपी बरी. केस में बीजेपी के सीनियर नेता लाल कृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी का भी नाम था. अब उन्होंने लड्डू खाकर खुशी मनाई और जय श्री राम का नारा लगाया. पढ़ें बरी होने के बाद क्या बोले सभी आरोपी.

Babri-advani
बाबरी विध्वंस केस में मुरली मनोहर जोशी, कल्याण सिंह, लाल कृष्ण आडवाणी और उमा भारती का भी नाम था

बाबरी मस्जिद विध्वंस केस पर सीबीआई की स्पेशल कोर्ट का फैसला (Babri Masjid Demolition Case Verdict) आ गया है. केस से जुड़े 32 आरोपियों को बरी कर दिया गया है, जिसपर इन सभी लोगों ने खुशी जताई है. केस में बीजेपी के सीनियर नेता लाल कृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी का भी नाम था. अब उन्होंने लड्डू खाकर खुशी मनाई और जय श्री राम का नारा लगाया.

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह ने भी फैसले (Babri Masjid Demolition Case Verdict) का स्वागत किया. कल्याण सिंह ने गाजियाबाद के अस्पताल में इस फैसले को सुना. फैसले पर केस से जुड़े अन्य लोगों की क्या प्रतिक्रिया रही पढ़िए

बाबरी मस्जिद विध्वंस से जुड़े कोर्ट के फैसले पर क्या बोले आडवाणी-जोशी

बाबरी मस्जिद विध्वंस पर फैसला आने के बाद लाल कृष्ण आडवाणी (Lal Krishna Advani on Babri Masjid Demolition Case Verdict) ने कहा, मैं फैसले का स्वागत करता हूं. राम जन्मभूमि आंदोलन में हम लोग ठीक थे, यह फैसले से साबित होता है.

वहीं बीजेपी नेता मुरली मनोहर जोशी ने अदालत के फैसले (Murli Manohar Joshi on Babri Masjid Demolition Case Verdict) का स्वागत किया. उन्होंने कहा कि राम मंदिर आंदोलन एक ऐतिहासिक पल था. अदालत ने आज एक ऐतिहासिक निर्णय सुनाया, मैं तमाम अधिवक्ताओं को जिन्होंने शुरुआत के दिन से ही हर स्तर पर इस मामले में सही तथ्यों को न्यायलय के सामने रखा. ये उनकी परिश्रम से और लोगों की गवाही से ये फैसला सामने आया है.

पढ़ें – बाबरी मस्जिद विध्वंस केस पर बड़ा फैसला, आडवाणी-जोशी समेत सभी 32 आरोपी बरी

मुरली मनोहर जोशी ने कहा कि राम मंदिर आंदोलन एक काफी अहम वक्त था, इसका उद्देश्य देश की मर्यादाओं को सामने रखना था. अब राम मंदिर का निर्माण भी होने जा रहा है, जय जय सिया राम.

पढ़ें – सत्यमेव जयते…! बाबरी विध्वंस पर फैसले का राजनाथ-सीएम योगी समेत नेताओं ने किया स्वागत

कोर्ट में मौजूद सभी 26 लोग थे खुश

बता दें कि 32 आरोपियों में से 26 लोग लखनऊ की स्पेशल कोर्ट में मौजूद थे. फैसले के बाद शिव सेना से जुड़े नेता और मामले में आरोपी जय भगवान गोयल ने कहा कि फैसले के बाद कोर्ट में मौजूद सभी 26 लोग खुश थे क्योंकि फैसला राम जी के पक्ष में आया है.

वहीं आचार्य श्री धर्मेन्द्र जी जो बाबरी मस्जिद विधंवस मामले आरोपी नंबर 1 थें उन्होंने कारसेवकों पर गोली चलवाने के मामले में मुलायम सिंह यादव को जेल भेजने की मांग उठाई. मामले में बरी हुईं साध्वी ऋतम्भरा ने कहा कि सत्य को सामने आने में समय लगा लेकिन कानून पर भरोसा था. वहीं सांसद बृजभूषण शरण सिंह बोले सत्य की जीत हुई.

पढ़ें – अराजक तत्‍वों ने ढांचा तोड़ा, पूर्वनियोजित नहीं-आकस्मिक घटना… बाबरी केस में कोर्ट ने क्या कहा

बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में बरी हुए साक्षी महाराज बोले कि समय लगा लेकिन वही हुआ जो सत्य था. वहीं रामविलास वेदांती ने कहा कि ढांचा ढहना कोई साजिश नहीं थी और कोर्ट ने इसे माना है. पवन पांडे ने कहा कि हम फैसले का स्वागत करते हैं. वहीं संतोष दुबे ने कहा कि, ‘जय श्री राम, आज जो फैसला आया है वो देश का फैसला है. हम अब राम लला के दर्शन करने अयोध्या जाएंगे.’

Related Posts