‘भारत की बजाय हम तैरकर इटली जाना पसंद करेंगे’, अवैध घुसपैठ पर बोले बांग्लादेशी राजदूत

सैयद मुअज्जम अली ने कहा कि भारत में चुनावी मौसम आते ही कथित अवैध प्रवासियों का मुद्दा उठाया जाता है.

बांग्लादेश के उच्चायुक्त सैयद मुअज्जम अली ने अपने देश के नागरिकों की भारत में अवैध घुसपैठ के मसले पर मंगलवार को तीखी प्रतिक्रिया दी. उन्होंने कहा ‘मैं आपको बता दूं कि मेरे देश का कोई शख्स भूमध्यसागर तैरकर इटली चला जाएगा लेकिन भारत नहीं आएगा.’

सैयद मुअज्जम अली ने प्रेस क्लब ऑफ इंडिया की एक मीडिया वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि भारत में चुनावी मौसम आते ही कथित अवैध प्रवासियों का मुद्दा उठाया जाता है. अली ने कहा कि बांग्लादेश चरमपंथी ताकतों का सामना कर रहा है और उसे सेक्युलरिज्म की नींव को मजबूती देने के लिए भारत की मदद चाहिए जैसे उसने 1971 में की थी.

उन्होंने कहा कि यहां की कई राजनैतिक पार्टियां बांग्लादेशी शरणार्थियों का इस्तेमाल करती हैं जबकि बांग्लादेश का हर नागरिक ऐसी जगह जाने का इच्छुक है जहां ज्यादा कमा सके. भारत में तो खुद ही प्रति व्यक्ति आय अच्छी नहीं है.

अयोध्या राम जन्मभूमि मामले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद ढाका में भी प्रदर्शन हुए थे. इस सवाल पर अली ने कहा कि हम भारत के आंतरिक मसलों पर टिप्पणी करने में सावधानी बरतते हैं. बांग्लादेश में अभी सेकुलर और प्रगतिशील पार्टियां हैं और उम्मीद है आगे भी ऐसा ही होगा.

ये भी पढ़ें:

NRC से किस तरह अलग है NPR और क्यों हो रहा है इस पर विवाद?