ममता का मोदी से सवाल- कहां बम गिराया, कितने मारे गए

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बालाकोट एयर स्ट्राइक पर सवाल उठाए. उन्होंने कहा "वो देश की सेना के साथ हैं, पर सेना को सच बोलने की आजादी नहीं है. देश की जनता सच जानना चाहती है."

कोलकाता. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से बालाकोट में भारतीय वायुसेना द्वारा की गई कार्रवाई का ब्यौरा मांगा है. पुलवामा आतंकी हमले की जवाबी करवाई में भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में बसे आतंकी कैंपों पर एयर स्ट्राइक किया था. इसके बाद भारतीय मीडिया ने इस एयर स्ट्राइक में 200 से लेकर 400 आतंकियों के मरने के अलग-अलग दावे किए थे. भारत सरकार ने इसपर अभी तक कोई भी अधिकारिक आंकड़े पेश नहीं किए हैं.

ममता के सवाल

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने कहा, “हवाई हमले के बाद, पीएम ने सभी पार्टियों की कोई बैठक नहीं बुलाई. हम ऑपरेशन के डिटेल्स जानना चाहते हैं. कहां बम गिराया गया, कितने लोग मारे गए.” उन्होंने आगे कहा कि “मैं विदेशी मीडिया में पढ़ रही थी और उन्होंने लिखा कि कोई भी नहीं मारा गया और कुछ मीडिया हाउसेस ने लिखा कि एक मरा है. हम डिटेल्स जानना चाहते हैं.” उन्होंने ये भी कहा कि “हम नहीं चाहते कि राजनितिक रोटियां सेकी जाएं. अगर यह देश के लिए है, तो हम देश के साथ हैं, लेकिन अगर यह राजनीति के लिए है, और चुनाव जीतने के लिए, तो हम इसको नहीं होने देंगे.”


सरकार ने नहीं पेश किए आंकड़े

विदेश मंत्रालय ने एयर स्ट्राइक के बाद अधिकारिक प्रेस कांफ्रेंस की थी, पर इसमें उन्होंने कोई भी आंकड़ा पेश नहीं किया था. हालांकि, मंत्रालय ने ये जरूर कहा कि जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी कैपों पर की गई एयर स्ट्राइक में ग्रुप कमांडर समेत कई आतंकी मारे गए हैं. जहां भारतीय मीडिया अलग-अलग नंबर चलाती रही, वहीं पाकिस्तान ने किसी के भी मारे जाने की पुष्टि नहीं की.


वायुसेना ने कहा हम कामयाब रहे

गुरूवार को भारतीय सेना के तीनों अंगों-थल सेना, नौसेना और वायुसेना- की संयुक्त वार्ता में एयर वाईस मार्शल आरजीके कपूर ने कहा कि हमारे पास इस बात के सबूत हैं कि हम जो करना चाहते थे और जिन टारगेट्स को नष्ट करना चाहते थे, हम उसमे कामयाब रहे. उन्होंने आगे कहा कि सबूत दिखाना है या नहीं ये वरिष्ठ नेतृत्व के हाथ में है.