PMC बैंक में हुआ 6500 करोड़ से ज्यादा का घोटाला, 10.5 करोड़ कैश का पता नहीं

PMC बैंक की जांच टीम को जो चेक मिले हैं, वे 10 करोड़ रुपये से ज्यादा के हैं. जिन्हें बैंक में जमा किए बगैर ही कैश दे दिया गया.

पंजाब व महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव (PMC) घोटाला मामले में बड़ा खुलासा हुआ है. बैंक की इंटर्नल इनवेस्टिगेशन टीम की जांच में यह बात सामने आई है कि बैंक रिकॉर्ड से 10.5 करोड़ रुपए कैश गायब हैं. जांच टीम को रियल एस्टेट कंपनी हाउसिंग डेवलपमेंट एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (HDIL) और इसकी संबंधित कंपनियों द्वारा जारी किए गए कई चेक मिले हैं.

ये चेक बैंक में कभी जमा नहीं किए गए फिर भी उन्हें कैश दे दिया गया. साथ ही एक और हैरान करने वाली जानकारी सामने आई है. पहले कहा जा रहा था की PMC का पूरा घोटाला 4 हजार 355 करोड रुपए का है, लेकिन हकीकत में यह 6 हजार 500 करोड़ रुपए से भी ज्यादा का घोटाला है.

10 करोड़ रुपये से ज्यादा के हैं चेक

जांच टीम को जो चेक मिले हैं, वे 10 करोड़ रुपये से ज्यादा के हैं. जिन्हें बैंक में जमा किए बगैर ही कैश दे दिया गया. बाकी के 50-55 लाख रुपये का कोई हिसाब नहीं है. इसके अलावा बैंक अधिकारियों ने घोटाले की राशि पहले 4 हजार 355 करोड़ रुपये बताई थी, जो अब 6 हजार 500 करोड़ रुपये से ज्यादा के आंकड़े को पार कर गई है.

10.5 करोड़ रुपये कैश गायब

बैंक को रिकॉर्ड से सिर्फ 10.5 करोड़ रुपये कैश गायब होने की जानकारी मिली. आरबीआई द्वारा नियुक्त टीम इस मामले की जांच कर रही थी, जिसे इस बात की जानकारी मिली है. इसी जांच में घोटाले की राशि ज्यादा होने की जानकारी भी सामने आई है.

जॉय थामस को कई चेक भेजे

जांच में यह बात भी सामने आई है कि HDIL की कंपनियो ने पिछले दो वर्षों में बैंक के पूर्व एमडी जॉय थामस को कई चेक भेजे, उन्हें कैश दिया भी गया, लेकिकन चेक को जमा नहीं किया गया, ना ही इस चेक की एंट्री की गई. माना जा रहा है कि थॉमस ने 50-55 लाख रुपए अपने पास रख लिए.

FIR में जोड़ी जा सकती है ये राशि

जानकारी के मुताबिक यह पूरा घोटाला तकरीबन 6 हजार 500 करोड़ रुपए का है. माना जा रहा है कि अब एफआईआर में भी इस राशि को जोड़ा जा सकता है. गौरतलब है कि पीएमसी के पूर्व डायरेक्टर जॉय थॉमस गुरुवार को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिए गए हैं. फिलहाल वह जेल में बंद हैं.

खाताधारकों से संबंधित याचिका पर सुनवाई

वहीं सुप्रीम कोर्ट आज यानी शुक्रवार को पंजाब एंड महाराष्ट्र को-आपरेटिव (पीएमसी) बैंक के खाताधारकों से संबंधित एक याचिका पर सुनवाई करेगा. यह याचिका पीएमसी बैंक में पड़ी खाताधारकों की जमाराशि की सुरक्षा को लेकर अंतरिम उपाय किये जाने से जुड़ी हुई है.

ये भी पढ़ें-

PMC बैंक मामले पर सुप्रीम कोर्ट आज करेगा सुनवाई, अब तक तीन की हो चुकी है मौत

पहली पत्‍नी ने दूसरी पर लगाया प्रॉपर्टी हड़पने का आरोप, बुरे फंसे पूर्व क्रिकेटर मनोज प्रभाकर