कृषि और किसानों से संबंधित बिल को जन-जन तक पहुंचाने के लिए बीजेपी ने बनाया मेगा प्लान

कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने एक पत्र इस बिल के विरोध में इस्तीफा दे चुकी अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर को भी लिखा है और अपनी तरफ से बिल से संबंधित उनकी शंकाओं का निवारण किया है.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 8:03 pm, Mon, 21 September 20
भारतीय जनता पार्टी (FILE)

कृषि और किसानों से संबंधित बिल को जन-जन तक पहुंचाने के लिए भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने मेगा प्लान बनाया है. इस सिलसिले में केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने पंजाब, हरियाणा और आस-पास के राज्यों के केंद्रीय मंत्रियों और सभी सांसदों के साथ बैठक की और बिल के संबंध में फैलाए जा रहे भ्रम पर काउंटर जवाब दिया. इसके अलावा तोमर ने सभी BJP और NDA शासित राज्यों के कृषि मंत्रियों के साथ भी वर्चुअल मीटिंग कर बिल की हकीकत बताई.

इस क्रम में नरेंद्र सिंह तोमर ने RSS की असंतुष्ट अनुसांगिकों भारतीय किसान संघ, स्वदेशी जागरण मंच और किसान मोर्चों से बातचीत की और उनके शंकाओं पर सफाई देकर उन्हें संतुष्ट किया. कृषि मंत्री ने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ताओं और राज्य के प्रवक्ताओं को व्यक्तिगत और वर्चुअल माध्यमों से बातचीत कर बिल के संबंध में पूरी जानकारी प्रदान की है. इस क्रम में बीजेपी के संसदीय कार्यालय ने बिल के साइलेंट पॉइंटस बनाकर सबको दिए हैं.

साइलेंट पॉइंटर्स में तीनों कृषि बिलों के बारे में सकारात्मक बातों को हाइलाइट किया गया है. ये बताया गया है कि खरीद की पुरानी परंपरा MSP जारी रहेगी, APMC मंडियों में खरीददारी जारी रहेगी लेकिन उससे अलग भी किसान अपने फायदे के हिसाब से अपना माल कहीं भी बेंच सकते हैं. सभी सांसदों को निर्देश दिया गया है कि वे अपने अपने लोकसभा क्षेत्र में प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे और बिल की अच्छाइयों से लोगों को रूबरू कराएंगे. वहीं विपक्षी दलों द्वारा बिल को लेकर फैलाए जा रहे भ्रम से लोगों को रूबरू कराएंगे.

इस सिलसिले में कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने एक पत्र इस बिल के विरोध में इस्तीफा दे चुकी अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर को भी लिखा है और अपनी तरफ से बिल से संबंधित उनकी शंकाओं का निवारण किया है.