सुब्रह्मण्यम स्वामी का भाजपाइयों को ज्ञान- हम सारे बल्ब, संघ हमारा पावर प्लांट

सुब्रह्मण्यम स्वामी ने भाजपा और आरएसएस के रिश्ते को लेकर एक ट्वीट किया है. इसमें उन्होंने कहा है कि बीजेपी आरएसएस के बिना खत्म हो सकती है.

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने कहा है कि बीजेपी का वजूद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के बिना नहीं रह सकता. सुब्रह्मण्यम ने इसे लेकर एक ट्टीट किया है. उन्होंने लिखा, “बीजेपी का वजूद आरएसएस के बिना खत्म हो जाएगा. इस बात को समझें कि आरएसएस ही पावर प्लांट है. हम सांसद तो बल्ब हैं जो बिजली पाने के बाद चमकते हैं या फ्यूज हो सकते हैं.”

सुब्रह्मण्यम ने अपने ट्वीट में आरएसएस की भूमिका को और अधिक स्पष्ट किया. उन्होंने कहा कि आरएसएस बीजेपी को बहुत छोटे स्तर पर मैनेज नहीं करती और इसका विस्तृत दृष्टिकोण बेहद जटिल है. मैंने ये बात काफी मेहनत से समझी है. अन्य सांसदों को भी इसे समझना चाहिए.

गौरतलब है कि भाजपा पर उसके वैचारिक संरक्षक आरएसएस का कितना प्रभाव है, इसे लेकर लंबे समय से बहस होती रही है. राजनीतिक विश्लेषकों का भी मानना रहा है कि आरएसएस ने भाजपा उम्मीदवारों की जीत में अहम निभाई है.

इस बीच भाजपा और आरएसएस के रिश्ते पर उस वक्त गंभीर सवाल खड़े होने लगते हैं जब प्रशासनिक फैसलों पर संघ का प्रभाव होने का आरोप लगने लगता है.

मालूम हो कि सुब्रह्मण्यम स्वामी ट्वीटर पर काफी एक्टिव रहते हैं और आए दिन अपनी राय साझा करते रहते हैं. कई बार उनके बयानों को लेकर काफी विवाद भी हुआ है.