BJP नेता और पूर्व SP भारती घोष ने लौटाए ममता सरकार में मिले सारे अवॉर्ड, कहा- मैंने शुरुआत की

भारती घोष ने पश्चिम बंगाल सरकार से मिले सभी पुलिस सेवाओं के पदक लौटा दिए हैं. इन पदकों में मुख्यमंत्री से मिले विशेष पदक भी शामिल हैं.
bharti ghosh returns award, BJP नेता और पूर्व SP भारती घोष ने लौटाए ममता सरकार में मिले सारे अवॉर्ड, कहा- मैंने शुरुआत की

कोलकाता: पश्चिम मिदनापुर जिले की पूर्व पुलिस अधीक्षक (SP) भारती घोष ने बुधवार को राज्य सरकार से मिले सभी पुलिस सेवाओं के पदक लौटा दिए हैं. इन पदकों में मुख्यमंत्री से मिले विशेष पदक भी शामिल हैं.

भारती घोष ने पश्चिम मिदनापुर के माओवाद प्रभावित झारग्राम के जंगलों में छह साल तक SP के रहते हुए काम किया. उनके समय के दौरान माओवादी नेता किशनजी पुलिस मुठभेड़ में ढेर हो गए थे.

‘झूठा मामला बनाकर परेशान किया जाता था’

बुधवार को दासपुर में एक निजी इंटरव्यू के दौरान कहा कि, ‘सरकार मेरे काम का सम्मान करती है. उसी अधिकारी से गलत काम करवाना चाहती है और यदि अधिकारी ऐसा नहीं करना चाहते थे, तो उनके खिलाफ एक झूठा मामला बनाकर उन्हें परेशान किया जाता था.’

उन्होंने कहा कि, ‘जो अधिकारी आत्मसम्मान महसूस करता है, उसे इस राज्य सरकार से कोई पदक नहीं लेना चाहिए. उन्होंने कहा कि जो अधिकारियों का सम्मान नहीं करना जानती ऐसी कम मानसिकता वाली राज्य सरकार से कुछ भी आशा करना उचित नहीं है.’

‘इस तरह के अन्याय को चुपचाप सहन नहीं किया जा सकता’

उन्होंने दावा किया कि जिस तरह से उन्होंने पदक लौटाने की शुरुआत की है उसी तरह से अन्य आईपीएस व सिविल अधिकारी भी लौटाएंगे. उन्होंने कहा कि, कोई भी अधिकारी जो सोचता है कि राज्य सरकार उसके साथ गलत कर रही है, उसे सामने आना चाहिए और विरोध करना चाहिए. यदि आपकी आत्मा को चोट लगी है तो पदक लौटाओ, अपनी नौकरी छोड़ दें. इस तरह के अन्याय को चुपचाप सहन नहीं किया जा सकता है. विरोध किया जाना चाहिए.

‘2017 में दिया था नौकरी से इस्तीफा’

भारती घोष ने 2019 में BJP के टिकट पर घाटाल लोकसभा सीट से चुनाव लड़ा था. उनका मुकाबला तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार और बांग्ला फिल्मों के अभिनेता देव से रहा था. इस चुनाव में भारती घोष को हार मिली थी.  2017 में भारती घोष ने नौकरी से इस्तीफा दे दिया था उसके बाद जनवरी महीने में ममता बनर्जी की सरकार ने भारती घोष के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति, भ्रष्टाचार समेत अन्य मामलों में केस दर्ज किया.

ये भी पढ़ें- जम्मू-कश्मीर में सामान्य वर्ग के गरीबों को मिलेगा 10 प्रतिशत आरक्षण, कैबिनेट ने दी मंजूरी

ये भी पढ़ें- जम्मू-कश्मीर में 87 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी BJP, श्रीनगर में बोले राम माधव

Related Posts