संघ की सालाना बैठक में शामिल होंगे बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा, CAA समेत इन मुद्दों पर हो सकती है चर्चा!

जेपी नड्डा (JP Nadda) की बतौर अध्यक्ष यह पहली बैठक है. पार्टी की तरफ से नड्डा के अलावा संगठन महामंत्री बीएल संतोष (BL Santhosh) इस बैठक में हिस्सा लेने के लिए पहले ही बेंगलुरु (Bengaluru) पहुंच चुके हैं.
RSS annual meeting at Bengaluru, संघ की सालाना बैठक में शामिल होंगे बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा, CAA समेत इन मुद्दों पर हो सकती है चर्चा!

बीजेपी का राष्ट्रीय अध्यक्ष पद संभालने के बाद जेपी नड्डा (BJP President JP Nadda) पहली बार पार्टी के मुखिया के नाते संघ की सालाना बैठक अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा में हिस्सा लेने आज बेंगलुरु जा रहे हैं. बेंगलुरु में 3 दिनों तक रहेंगे और आरएसएस (RSS) की बैठक में बीजेपी का प्रतिनिधित्व करेंगे.

पार्टी की तरफ से नड्डा के अलावा संगठन महामंत्री बीएल संतोष (BL Santhosh) इस बैठक में हिस्सा लेने के लिए पहले ही बेंगलुरु पहुंच चुके हैं. हालांकि संघ के सभी अनुसांगिक संगठनों के प्रतिनिधि इस बैठक में हिस्सा लेंगे लेकिन जेपी नड्डा का बतौर अध्यक्ष यह पहली बैठक है.

इन मुद्दों पर तैयार होगा रोडमैप

संघ के सूत्रों ने टीवी9 भारतवर्ष को पहले ही बताया था कि इस बैठक में नागरिकता कानून (CAA), एनपीआर (NPR), और एनआरसी (NRC) जैसे मुद्दों पर विस्तृत चर्चा होगी और देशभर में इसके पक्ष में माहौल बनाने के लिए रोडमैप भी तैयार किया जाएगा.

खासकर नागरिकता कानून पास होने के बाद देश में बिगड़े माहौल और उससे निपटने के लिए माइनॉरिटी आउटरीच प्रोग्राम चलाने पर चर्चा होगी. इस बैठक में देश में जनसंख्या नियंत्रण को लेकर दो बच्चों की अनिवार्यता जैसे मुद्दे पर कानून की आवश्यकता पर भी चर्चा होगी.

अर्थव्यवस्था को लेकर डिस्कशन

इसके अलावा देश की मौजूदा अर्थव्यवस्था को लेकर भी बैठक में डिस्कशन हो सकता है. गौरतलब है कि देश की माली हालत को ध्यान में रखते हुए सरकार द्वारा उठाए जा रहे कदमों को लेकर संघ के विभिन्न अनुसांगिक संगठनों और वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) के साथ RSS के सह सरकार्यवाह और संघ की ओर से बीजेपी के पालक अधिकारी डॉ कृष्णगोपाल की 2 बैठक पिछले महीने ही बजट से पहले हुई थी.

जाहिर है संघ की सालाना बैठक में सालभर चलने वाले कार्यक्रम की योजना और रूपरेखा पर चर्चा होगी और बीजेपी अध्यक्ष के नाते जेपी नड्डा बैठक हुए फैसलों से केंद्र सरकार खासकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) और गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) को अवगत भी कराएंगे. पार्टी के जरिए इसको भरसक लागू करने के प्रयास भी करेंगे.

Related Posts