टिक-टॉक पर वीडियो बनाने के लिए लड़के ने चुराया आईफोन, पहुंचा जेल

आरोपी कौशाम्बी में नाजर फूड्स के कॉल सेंटर में काम करता है और टिकटॉक पर वीडियो अपलोड करके पैसे कमाता है.

नई दिल्ली: टिक-टॉक के पीछे लोगों की दीवानगी और बेवकूफियां थमने का नाम नहीं ले रही हैं. आए दिन टिक-टॉक यूजर्स या तो सुसाइड कर रहे हैं या फिर लापरवाही के चलते किसी हादसे का शिकार हो रहे हैं. ऐसा ही एक मामला दिल्ली के प्रीत विहार इलाके में सामने आया है. टिक-टॉक की वजह से 20 वर्षीय युवक के पागलपन ने उसे जेल भिजवा दिया.

पुलिस ने रविवार को बताया कि पूर्वी दिल्ली के प्रीत विहार इलाके में लड़के को एक आईफोन छीनने के लिए गिरफ्तार किया गया. वह अपना वीडियो रिकॉर्ड करने के लिए बेहतर कैमरा फीचर चाहता था.

पुलिस के अनुसार, आरोपी की पहचान उत्तर प्रदेश के गौतम बौद्धनगर निवासी जतिन नागर के रूप में हुई है.

पुलिस उपायुक्त (पूर्व) जसमीत सिंह ने कहा, “हमें बुधवार को एक शिकायत मिली जहां शिकायतकर्ता जतिन छाबड़ा ने आरोप लगाया कि उसने अपना आईफोन एक्स एस को बेचने के लिए ओएलएक्स वेबसाइट पर एक विज्ञापन दिया था, जिसके लिए नागर ने उनसे संपर्क किया था. सौदा 80 हजार रुपये में तय हो गया.”

पुलिस ने बताया कि सौदे के लिए प्रीत विहार सिग्नल के पास दोनों शाम करीब 6 बजे मिले, जब वे सौदे को अंतिम रूप दे रहे थे जतिन नागर ने फोन छीन लिया. इसके बाद जतिन छाबड़ा ने केस दर्ज कराया.

सिंह ने कहा, “नगर विकास मार्ग से शनिवार को नागर को पकड़ा गया. उसके पास से मोबाइल को जब्त किया गया. पूछताछ के दौरान, उसने खुलासा किया कि वह टिकटॉक पर वीडियो अपलोड करता है और उसके के माध्यम से पैसा कमाता है.”

उन्होंने कहा, “वीडियो बनाने के लिए उसने शिकायतकर्ता से यह मोबाइल छीन लिया, क्योंकि फोन में अच्छी शूटिंग के लिए सभी सुविधाएं उपलब्ध हैं.”

पुलिस ने कहा कि आरोपी कौशाम्बी में नाजर फूड्स के कॉल सेंटर में काम करता है और उसका कोई पिछला आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है.