कांग्रेस-बीजेपी पर मायावती का वार, बोलीं- दोनों एक ही थाली के चट्टे-बट्टे

मायावती ने कहा, "सत्ताधारी बीजेपी का कांग्रेस पार्टी पर आरोप है कि उसका गरीबी हटाओ-2 का नारा चुनावी धोखा है. यह सच है, लेकिन क्या चुनावी धोखा व वादाखिलाफी का अधिकार केवल बीजेपी के पास ही है?"

लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने बुधवार को एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और कांग्रेस पर निशाना साधा. उन्होंने गरीबों और किसानों के मामले में दोनों को एक ही थाली के चट्टे-बट्टे बताया है.

मायावती ने ट्वीट किया, “सत्ताधारी बीजेपी का कांग्रेस पार्टी पर आरोप है कि उसका गरीबी हटाओ-2 का नारा चुनावी धोखा है. यह सच है, लेकिन क्या चुनावी धोखा व वादाखिलाफी का अधिकार केवल बीजेपी के पास ही है? गरीबों, मजदूरों, किसानों आदि के हितों की उपेक्षा के मामले में दोनों ही पार्टियां एक ही थाली के चट्टे-बट्टे हैं.”


क्या माफ़ी मांगेगी बीजेपी?
बसपा अध्यक्ष मायावती ने नोटबंदी को लेकर कहा कि इसके कारण कामगार बेरोजगार होकर गांव वापस लौटकर मजदूरी करने के लिए मजबूर हैं. उन्होंने कहा था कि अपरिपक्व तरीके से थोपी गई नोटबंदी की आर्थिक आपातकाल का कुप्रभाव भले ही धन्नासेठों पर न पड़ा हो, लेकिन ग्रामीण भारत पर इसका बहुत ही बुरा प्रभाव जारी है.

उन्होंने कहा, “कामगार बेरोजगार होकर गांव वापस लौटने, मजदूरी करके गुजर-बसर करने पर मजबूर हैं. आंकड़े इस बात के गवाह हैं. क्या बीजेपी माफी इसके लिए मांगेगी?”