बस में साथ सफर करने वाला बना IMF चीफ इकोनॉमिस्ट गीता का हमसफ़र

Share this on WhatsAppनयी दिल्ली वो दुनिया के बेहतरीन अर्थशास्त्रियों में से एक हैं. यही नहीं सारी महिलाओं के लिए वो रोल मॉडल भी हैं. ऐसे ही कुछ कसीदे आईएमएफ एमडी क्रिस्टीन लगार्ड ने गीता गोपीनाथ की शान में पढ़ें. गजब का हौसला हो, बुलंद इरादे हो तो आपको जीतने से कोई नहीं रोक सकता. […]

नयी दिल्ली

वो दुनिया के बेहतरीन अर्थशास्त्रियों में से एक हैं. यही नहीं सारी महिलाओं के लिए वो रोल मॉडल भी हैं. ऐसे ही कुछ कसीदे आईएमएफ एमडी क्रिस्टीन लगार्ड ने गीता गोपीनाथ की शान में पढ़ें. गजब का हौसला हो, बुलंद इरादे हो तो आपको जीतने से कोई नहीं रोक सकता. इस बात को साबित कर दिखाया हाल में आईएमएफ में चीफ इकोनॉमिस्ट का पद संभालने वाली गीता ने. आइये जानते हैं, 8 दिसंबर 1971 को पैदा होने वाली गीता के बारे में कुछ प्रोफेशनल और पर्सनल 8 बातें…

1. इनका जन्म कोलकता में हुआ जबकि स्कूलिंग मैसूर के निर्मला कॉन्वेंट स्कूल से हुई. इन्होंने दिल्ली के लेडी श्रीराम कॉलेज से अर्थशास्त्र में ऑनर्स की डिग्री हासिल की.

2. दिल्ली स्कूल ऑफ़ इकोनॉमिक्स से मास्टर की डिग्री ली और प्रिंसटन यूनिवर्सिटी से पीएचडी की.

3. वर्ष 2001 में शिकागो यूनिवर्सिटी से बतौर असिस्टेंट प्रोफेसर जुड़ीं. यहां पांच साल तक सेवाएं देने के बाद हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ाने चली गयीं. गीता अमेरिकन इकनोमिक रिव्यू की कोएडिटर भी रह चुकी हैं.

4. वर्ष 2017 में गीता केरल की वित्तीय सलाहकार रह चुकी हैं. इनकी नियुक्ति मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने की थी.

5. गीता की मां वीसी विजयलक्ष्मी को अपनी इस होनहार बेटी पर गर्व है. एक इंटरव्यू में उन्होंने बताया था कि काफी बिजी दिनचर्या होने के बावजूद भी वो हर शाम मुझसे बात करना नहीं भूलती.

6.  दिल्ली स्कूल ऑफ़ इकोनॉमिक्स में ही गीता की मुलाक़ात उसके होने वाले पति इक़बाल सिंह धालीवाल से हुई. कॉलेज जाते वक़्त ये दोनों साथ ही बस से सफर करते थे. इक़बाल ने 1996 में आईएएस टॉप किया था. तमिलमाडु कैडर के अफसर इक़बाल ने करीब पांच साल तक नौकरी की, उसके बाद वो अमेरिका चले गए.

7.  वर्ष 1997 में इनकी इंगेजमेंट और 1999 में इनकी शादी हुई. अब इनके एक बेटा है, जिसका नाम रोहिल है. इक़बाल इस समय एमआईटी के पावर्टी एक्शन लैब में बतौर एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर जुड़े हुए हैं.