दोस्तों से मिलने के लिए नहीं दिया जाता बिजनेस वीजा: ब्रिटिश MP को भारत सरकार का जवाब

सोमवार को ब्रिटिश सांसद डेबी अब्राहम्स को इंदिरा गांधी इंटरनेशल एयरपोर्ट (IGI) पर उतरने के बाद उन्हें डिपोर्ट कर दिया था, जिसके बाद भारत सरकार ने मंगलवार को सांसद का वीजा रद्द करने के 6 कारण बताए हैं.
Government of India reply to British MP debbie abrahams, दोस्तों से मिलने के लिए नहीं दिया जाता बिजनेस वीजा: ब्रिटिश MP को भारत सरकार का जवाब

इंदिरा गांधी इंटरनेशल एयरपोर्ट (IGI) से सोमवार को दुबई डिपोर्ट की गईं ब्रिटिश सांसद डेबी अब्राहम्स का वीजा 6 कारणों से रद्द किया गया है. ब्रिटिश एमपी को भारत सरकार ने वीजा रद्द किए जाने के ये सभी कारण जवाब के तौर पर भेज दिए हैं. सांसद डेबी को भारत में बिजनेस मीटिंग अटेंड करने के लिए 7 अक्टूबर 2019 से 5 अक्टूबर 2020 तक का ई-बिजनेस वीजा दिया गया था, तो उसे रद्द क्‍यों कर दिया गया? क्‍या हैं इसके पीछे के कारण, आइए जानते हैं:

सरकार की तरफ से बताए गए ये कारण

  • वीजा मंजूर करना या न करना किसी भी देश का संप्रभु अधिकार है.
  • सांसद डेबी अब्राहम्स को बिजनेस मीटिंग में शामिल होने के लिए 7 अक्टूबर 2019 को ई-बिजनेस वीजा दिया गया था, यह वीजा 5 अक्टूबर 2020 तक वैध था.
  • ई-बिजनेस वीजा 14 फरवरी 2020 को रद्द कर दिया गया था. इसकी जानकारी उन्हें समय रहते दे दी गई थी.
  • ब्रिटिश सांसद जब भारत पहुंचींं, तब उनके पास भारत का वैध वीजा नहीं था, जिसके बाद उन्हें एयरपोर्ट से ही लौटने को कहा गया.
  • एयरपोर्ट पर UK के नागरिकों के लिए ‘वीजा ऑन अराइवल’ का कोई प्रावधान नहीं है.
  • पहले से जारी ई-बिजनेस वीजा बिजनेस मीटिंग्स के लिए होता है, उसका उपयोग परिवार और दोस्तों से मिलने के लिए नहीं किया जा सकता है. नियमों के अनुसार इसकी अनुमति नहीं है और इसके लिए अलग वीजा के लिए एप्लाई करना पड़ता है.

क्या था मामला?

भारत ने सोमवार को ब्रिटिश सांसद डेबी अब्राहम्स को इंदिरा गांधी इंटरनेशल एयरपोर्ट (IGI) पर उतरते ही दुबई डिपोर्ट कर दिया था. न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, सरकारी सूत्रों ने बताया थी कि अब्राहम्स के पास यात्रा करने के लिए वैध वीजा नहीं था, इसलिए उन्हें भारत में प्रवेश से रोक दिया गया.

ये भी पढ़ें:

वीजा रद्द होने के बाद भी भारत आईं ब्रिटिश सांसद, एयरपोर्ट से दुबई डिपोर्ट किया

 

Related Posts