कर्नाटक की 15 सीटों पर उपचुनाव की वोटिंग जारी, येदियुरप्पा सरकार के लिए 6 सीटें जीतना जरूरी

उपचुनाव के नतीजे 9 दिसंबर को आएंगे.बीजेपी को राज्य की सत्ता में बने रहने के लिए 15 सीटों में कम से कम छह सीटें जीतने की जरूरत है.

कर्नाटक के 15 विधानसभा क्षेत्रों में आज उपचुनाव की वोटिंग शरू हो गई है. गुरुवार सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक वोटिंग चलेगी. उपचुनाव के नतीजे 9 दिसंबर को आएंगे. ये उपचुनाव राज्य में मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा के नेतृत्व वाली बीजेपी सरकार की किस्मत तय करेगा.

बीजेपी को राज्य की सत्ता में बने रहने के लिए 15 सीटों में कम से कम छह सीटें जीतने की जरूरत है. हालांकि, अब भी मास्की और आरआर नगर सीटें खाली रहेंगी. इन दो सीटों के उपचुनाव पर कर्नाटक उच्च न्यायालय में मई 2018 विधानसभा चुनाव के नतीजे को लेकर दायर मुकदमे की वजह से रोक लगा दी गई है.

विधानसभा में अभी बीजेपी के पास 105 (एक निर्दलीय सहित), कांग्रेस के 66 और जेडीएस के 34 विधायक हैं. बसपा के भी एक विधायक हैं. इसके अलावा एक मनोनीत विधायक और स्पीकर हैं. अयोग्य करार दिए गए 13 विधायकों को बीजेपी ने अपना उम्मीदवार बनाया है.

उपचुनाव लड़ने के लिए उच्चतम न्यायालय से इजाजत मिलने के बाद पिछले महीने वे बीजेपी में शामिल हो गए थे. गुरुवार को जिन 15 सीटों पर उपचुनाव हो रहे हैं उनमें 12 पर कांग्रेस और तीन पर जेडीएस का कब्जा है.

ये भी पढ़ें-

छत्तीसगढ़: पूर्व सीएम रमन सिंह को नहीं मिलेगी Z+ सेक्युरिटी, परिवार की सुरक्षा में भी कटौती

गुजराल की सलाह मानी होती तो नहीं होता 1984 दंगा, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह का बड़ा बयान