दिल्ली अग्निकांड: फैक्ट्री मालिक गिरफ्तार, IPC की धारा 304 के तहत केस दर्ज

तीन सगे भाई रियान, शान और इमरान इस फैक्ट्री के मालिक हैं. फिलहाल रियान और उसका एक भाई को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.
case registered in delhi fire, दिल्ली अग्निकांड: फैक्ट्री मालिक गिरफ्तार, IPC की धारा 304 के तहत केस दर्ज

दिल्ली पुलिस ने राजधानी के रानी झांसी रोड पर अनाज मंडी में लगी आग के मामले में फैक्ट्री मालिक रियान को गिरफ्तार कर लिया है. थोड़ी देर में रियान से पूछताछ शुरू की जाएगी. घटना के बाद से ही पुलिस को फैक्ट्री मालिक की तलाश थी.

पुलिस ने फैक्ट्री मालिक के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 304 (गैरइरादन हत्या) के तहत मामला दर्ज किया है. साथ ही यह मामला अपराध शाखा को सौंप दिया गया है.

तीन सगे भाई रियान, शान और इमरान इस फैक्ट्री के मालिक हैं. फिलहाल रियान और उसका एक भाई को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है जबकि एक भाई अभी भी फरार बताया जा रहा है.

डीसीपी नॉर्थ दिल्ली पुलिस मोनिका भारद्वाज ने बताया कि ‘बिल्डिंग मालिक रियान और उसके मैनेजर फुरकान को गिरफ्तार कर लिया गया है. मामले की जांच चल रही है. अब तक जो जानरियां हमें मिली हैं उसके मुताबिक और अधिक डेड बॉडिज के मिलने की संभावना नहीं है.’


गृह मंत्रालय ने दिल्ली में रविवार की अलस्सुबह एक फैक्ट्री में भीषण आग लगने की घटना पर विस्तृत रिपोर्ट मांगी है. इस आग में 43 लोगों की जान चली गई और एक दर्जन से ज्यादा लोग घायल हैं.

पश्चिमी दिल्ली के रानी झांसी इलाके में शॉर्ट सर्किट की वजह से एक बैग मैन्युफैक्चरिंग फैक्ट्री में आग लग गई. गृह मंत्रालय ने दिल्ली पुलिस व राज्य सरकार, दोनों से रिपोर्ट तलब की है.

संबंधित अधिकारियों को आग की घटना पर ‘विस्तृत रिपोर्ट’ जमा करने को कहा गया है. 1997 के उपहार सिनेमा आग त्रासदी के बाद राष्ट्रीय राजधानी में इसे दूसरी सबसे बड़ी त्रासदी बताई जा रही है. उपहार सिनेमा आगकांड में 59 लोगों की मौत हो गई थी और 100 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे.

सूत्रों ने कहा कि गृह मंत्रालय ने दिल्ली पुलिस को घटना का विवरण और उसके बाद की गई कार्रवाई के साथ मानदंडों का अवज्ञा की जानकारी देने को कहा गया है.

यह कदम केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह द्वारा एक ट्वीट में घटना को ‘भयावह व बहुमूल्य जीवनों का नुकसान’ कहे जाने के बाद उठाया गया है. शाह ने संबंधित अधिकारियों को सभी तरह की मदद देने का निर्देश दिया है.

ये भी पढ़ें-

दिल्ली अग्निकांड: CM केजरीवाल ने की 10 लाख के मुआवजे की घोषणा, PMO-BJP भी देंगे सहायता राशि

दिल्ली का सबसे बड़ा अग्निकांड, सोते-सोते घुटा 43 लोगों का दम, हादसे की न्यायिक जांच के आदेश

उन्नाव गैंगेरप-मर्डर: कमिश्नर के वादे पर माना परिवार, हजारों नम आंखों ने दी पीड़िता को अंतिम विदाई

Related Posts