CBI के एडिशनल डायरेक्टर पद से हटाए गए नागेश्वर राव, मिली ये नई जिम्मेदारी

गृह मंत्रालय की तरफ से यह आदेश शुक्रवार को जारी किया गया.

नई दिल्ली: CBI के एडिशनल डायरेक्टर एम नागेश्वर राव को देश की प्रतिष्ठित जांच एजेंसी से हटा दिया गया है. उन्हें अग्नि सेवा, नागरिक सुरक्षा और होम गार्ड के महानिदेशक पद पर ज्वाइन करने का आदेश दिया गया है. यह पोस्ट पहले CBI के पूर्व डायरेक्टर आलोक वर्मा को दी गई थी.

गृह मंत्रालय की तरफ से यह आदेश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली नियुक्त समिति की तरफ से CBI में उनके कार्यकाल में कटौती करने और उन्हें गृह मंत्रालय में भेजे जाने के आदेश के कुछ देर बाद दिया गया.

M Nageshwar Rao, CBI के एडिशनल डायरेक्टर पद से हटाए गए नागेश्वर राव, मिली ये नई जिम्मेदारी

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट के न्यायमूर्ति अरूण मिश्रा एवं न्यायमूर्ति विनीत सरन की एक पीठ ने कहा था कि एक पूर्णकालिक CBI निदेशक की नियुक्ति के बाद अब किसी हस्तक्षेप की जरूरत नहीं है.

न्यायालय ने गैर सरकारी संगठन (एनजीओ) ‘कॉमन कॉज’ की एक याचिका पर यह फैसला सुनाया जिसने राव की CBI के अंतरिम निदेशक के तौर पर नियुक्ति को चुनौती भी दी थी.

पहले राव को सौंपा था प्रभार

सरकार ने एजेंसी के पूर्व निदेशक आलोक वर्मा और उनके सहयोगी राकेश अस्थाना के बीच गहरे मतभेदों के बीच दोनों को हटाने का निर्णय किया था. CBI के दोनों अधिकारियों ने एक दूसरे पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे जिसके बाद सरकार ने इस साल फरवरी में ऋषि कुमार शुक्ला को सीबीआई का नया निदेशक नियुक्त करने से पहले राव को प्रभार सौंपा था.

ये भी पढ़ें- बजट 2019 पर बोले पीएम मोदी- लोगों की जिंदगी आसान बनाएगा