ममता बनर्जी के करीबी अधिकारी राजीव कुमार पर लटकी गिरफ्तारी की तलवार, CBI ने भेजा नोटिस

CBI की टीम ने उन्हें गिरफ्तार तो नहीं किया लेकिन उनको नोटिस दे कर शनिवार को CBI दफ्तर पहुचने के लिए कहा है.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के करीबी माने जाने वाले कोलकाता के पूर्व कमिश्नर राजीव कुमार की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं. राजीव कुमार को सारदा चिटफंड मामले में कलकत्ता हाई कोर्ट ने गिरफ्तारी पर रोक लगाई हुई थी, जिसके हटने के बाद शुक्रवार को CBI की टीम उनके घर पहुंच गई. CBI की टीम ने उन्हें गिरफ्तार तो नहीं किया लेकिन उनको नोटिस दे कर शनिवार को CBI दफ्तर पहुचने के लिए कहा है.

राजीव कुमार फिलहाल अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक के पद पर तैनात हैं. मालूम हो कि राजीव कुमार सारदा चिटफंड मामले की जांच करने वाली एसआई टी के प्रमुख थे. हालांकि ये मामला साल 2014 में सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद CBI के हाथ में चला गया. उसके बाद पूर्व पुलिस कमिश्नर के खिलाफ सबूतों से छेड़छाड़ करने का आरोप लगा.

हाल ही में CBI की टीम सारदा चिटफंड घोटाले को लेकर सवाल जवाब करने उनके घर पहुंची थी. फरवरी महीने की इस घटना के दौरान राजीव कुमार के घर पर पहुंचे CBI के अधिकारियों को पुलिस ने हिरासत में लिया था. इस घटना में पुलिस और CBI आमने सामने आ गई थी. इसके बाद राजीव कुमार कोर्ट पहुंचे और उन्हें गिरफ्तारी से राहत मिली.

ये भी पढ़ें: आम आदमी पार्टी विधायक अमानतुल्लाह खान के खिलाफ दर्ज हुई एक और FIR