घाटी को अशांत करने का हर दांव हुआ फेल तो अब पाकिस्तान ने तैयार किए ये खतरनाक हथियार

पाकिस्तान बेसिर पैर की बातों को घाटी में फैलाकर लोगों को भड़काने की कोशिश में जुटा है. पाक परस्त संगठनों और भारत विरोधी गुटों के जरिये पाकिस्तान कश्मीर में अशांति फैलाने का नापाक प्लान बना रहा है.

नई दिल्ली: हिंदी में एक कहावत बहुत मशहूर है कि ‘खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे’. पाकिस्तान की हालत बिल्कुल ऐसा ही हो गया है. आर्टिकल 370 को खत्म करने के बाद पाकिस्तान ने पूरे विश्व में रोना रो लिया लेकिन पाक को किसी भी देश का कंधा भी नहीं मिला ताकि पाकिस्तान रो सके. अब बेचारा पड़ोसी मुल्क कश्मीर में लोगों के बीच गड़बड़ी फैलाने के लिए झूठ और अफवाह को अपना खतरनाक हथियार बना रहा है.

पाकिस्तान बेसिर पैर की बातों को घाटी में फैलाकर लोगों को भड़काने की कोशिश में जुटा है. पाक परस्त संगठनों और भारत विरोधी गुटों के जरिये पाकिस्तान कश्मीर में अशांति फैलाने का नापाक प्लान बना रहा है. केंद्र सरकार ने जब से पत्थरबाजों पर जब से नकेल कसी है तभी से पाकिस्तान परेशान हो गया है. पत्थरबाजों के असफल हो जाने के बाद पाकिस्तान ने झूठी अफवाह फैलाने का काम शुरू किया है.

कश्मीर में मौजूद पाकिस्तानी तंत्र लोगों को बरगलाने, बहकाने, भड़काने और उकसाने के काम मे जुटा हुआ है. घाटी का अमन देख पाकिस्तान के सीने में सांप लोटने लगता है. जम्मू कश्मीर पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों को घाटी में पाकिस्तानी साजिश के पूरे सबूत मिले हैं.

कश्मीर में सुरक्षा व्यवस्था का जिम्मा संभाल रहे एजेंसियों को अलर्ट किया गया है. सुरक्षा एजेंसी एक-एक अपवाद और गलत सूचनाओं को गंभीरता से लेकर उसे खत्म करने की कार्रवाई कर रही है. भारतीय एजेंसियां पाकिस्तानी गैंग को मुंहतोड़ जवाब दे रही हैं.

इससे पहले पाकिस्तान सुरक्षाबलों के खिलाफ पत्थरबाजों या सुपारी किलर को आगे करता था. पाकिस्तानी समर्थन से कई तरह के बेसिरपैर की बातों को आगे बढ़ाया जा रहा है. शाह फैसल की रिहाई के नाम पर हावर्ड जैसे नामी गिरामी संस्थान को बदनाम करने की कोशिश की गई.

पाकिस्तान ऐसी झूठी अफवाहें फैला रहा है कि घाटी में 4000 से अधिक लोगों के गिरफ्तार करने या 6000 लोगों के मेडिकल टेस्ट करने से जैसे झूठी खबरों को आगे किया जा रहा है.

जम्मू कश्मीर पुलिस के सीनियर अधिकारियों से मिली जानकारी के मुताबिक पहले पाकिस्तान ने घाटी में पत्थरबाजों को तैयार किया था और अब वह अफवाह फैलाने वाले लोगों का एक बड़ा नेटवर्क तैयार कर रहा है. ताकि कश्मीर की स्थिति बिगड़ जाए. मालूम हो कि कई मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया था कि घाटी में इंटरनेट बहाल किए जाने के बाद एक बार फिर कई इलाकों से ये सर्विस हटा ली गई थी. कयास लगाए जा रहे हैं कि इंटरनेट इसी लिए रद्द किया गया था.

सीसफायर का पाकिस्तान ने किया उल्लंघन
पाकिस्तान ने एक बार फिर से अपनी नापाक हरकतों को अंजाम दिया है. दरअसल पाकिस्तान ने एक बार फिर सीमा पर युद्धविराम का उल्लंघन किया है. रविवार रात एलओसी से सटे नौसेरा क्षेत्र के केरी बटाल में सीमा पार से गोलीबारी की गई. पाकिस्तान ने गोलीबारी में भारतीय नागरिकों को निशाना बनाने की कोशिश की थी. इस पाकिस्तानी गोलीबारी में पुंछ जिले के डबडाज गांव की मनकोट तहसील में एक लड़की गंभीर रूप से घायल हुई है.

पाकिस्तान की ओर से युद्धविराम के उल्लंघन की खबरें राजौरी जिले के सुंदबनी सेक्टर इलाके से भी आई हैं. भारतीय सेना लगातार इन हमलों का जवाब दे रही है.