स्वदेशी बुलेट प्रूफ जैकेट करेगी जवानों के प्राणों की रक्षा, पासवान ने बताई इसकी खूबियां

स्वदेशी बुलेट प्रूफ जैकेट की खूबियां गिनाते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि ये जैकेट शरीर के ऊपरी भाग को हर तरफ से कवर करता है. इसको पहनने में जवान को किसी तरह की कोई तकलीफ नहीं होगी और इसको पहन कर आराम से किसी भी ऑपरेशन को अंजाम तक पहुंचाया जा सकता है.
रामविलास पासवान, स्वदेशी बुलेट प्रूफ जैकेट करेगी जवानों के प्राणों की रक्षा, पासवान ने बताई इसकी खूबियां

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने टीवी9 भारतवर्ष से बातचीत कि. इस दौरान उन्होंने कई सवालों का बेबाकी से जवाब दिया. उन्होंने कहा कि मेक इन इंडिया के तहत देश के जवानों के लिए बुलेट प्रूफ जैकेट तैयार किया गया है. जिससे हमारे जवानों की प्राण रक्षा होगी.

पासवान ने कहा, “DIS स्टैंडर्ड और सारे अंतरराष्ट्रीय मानक के साथ और दुनिया मे सबसे बेहतरीन बुलेट प्रूफ जैकेट बनाई गई है. इसकी कीमत भी पहले के मुकाबले 50% कम है और इसका एक्सपोर्ट भी शुरू हुआ है. जिन स्टैण्डर्ड को नीति आयोग, रक्षा मंत्रालय को तय किया था उसी के साथ बनाई गई. DRDO ने भी इसको बनाने में मदद की है.”

स्वदेशी बुलेट प्रूफ जैकेट की खूबियां गिनाते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि ये जैकेट शरीर के ऊपरी भाग को हर तरफ से कवर करता है. इसको पहनने में जवान को किसी तरह की कोई तकलीफ नहीं होगी और इसको पहन कर आराम से किसी भी ऑपरेशन को अंजाम तक पहुंचाया जा सकता है.

पासवान ने बताया कि इस जैकेट में छह लेवल की प्रोटेक्शन है. इसका दस किलो है लेकिन वेट डिस्ट्रीब्यूशन सिस्टम के कारण जवान को पहनने के बाद इसका वजन पांच किलो की महसूस होगा. इसको बनाने वाली दो कंपनी पब्लिक अंडरटेकिंग है. पहले जैकेट करीब 20 किलो की होती है और अब इसका अधिकतम वजन 10 किलोग्राम है.

अभी इसकी सप्लाई CRPF को हुई है. दिसम्बर 2018 में इसका नोटिफिकेशन हुआ था. इसका प्रयोग सभी फोर्सेस कर सकेंगी. इसके कुछ मेटीरियल बाहर से जरूर आये है लेकिन इसकी प्रोसेसिंग भारत मे ही हो रही है.

Related Posts