समुद्र के रास्‍ते हमले की तैयारी में जैश-ए-मोहम्मद, नेवी चीफ का बड़ा खुलासा

नेवी चीफ करमबीर सिंह ने कहा कि हमारी नौसेना पाकिस्तान की हर चुनौती से निपटने के लिए तैयार है, नौसेना हाई अलर्ट पर है और 24 घंटे समंदर में मुस्तैद है.

नई दिल्ली: कश्मीर मसले पर पाकिस्तान को मिली हार उसकी तिलमिलाहट बयां कर रहा है, दुनिया भर में गिड़गिड़ाने के बाद भी पाकिस्तान को दूसरे मुल्क का साथ नहीं मिला. जिसके बाद पाक एक बार फिर हिन्दुस्तान को दहलाने की साजिशें रच रहा है, जिसका पर्दाफाश नेवी चीफ ने किया है. उन्होंने सोमवार को कहा कि खुफिया जानकारी मिली है कि जैश-ए-मोहम्मद के अंडरवाटर विंग को ट्रैंड किया जा रहा है, हम इसे ट्रैक रख रहे हैं.

नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह ने कहा, ‘जैश ए मोहम्मद अपने आतंकियो को समुद्री मार्ग से घुसने की ट्रेनिंग दे रहा है. आतंकी पानी से हमला करने की फि‍राक में हैं. हमारी उनके ऊपर कड़ी नजर है. हम सतर्क हैं. उनके नापाक मंसुबो को हम कामयाब नहीं होने देंगे.’

उन्होंने मीडिया से कहा, आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद लोगों को पानी के नीचे हमले के लिए प्रशिक्षित कर रहा है. उन्होंने कहा कि 2008 में 26/11 के हमले के बाद, हमने तटीय सुरक्षा की स्थापना की. यह बहुत अच्छा कर रहा है. चूंकि नौसेना समुद्री सुरक्षा के साथ-साथ तटीय सुरक्षा, समुद्री पुलिस और अन्य हितधारकों के साथ समुद्री सुरक्षा के ओवर ऑल इंचार्ज है. हम सुनिश्चित कर रहे हैं कि समुद्र से कोई घुसपैठ नहीं होगी.

नौसैना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह ने कहा कि खुफिया एजेसियो से श्रीलंका मार्ग से तमिलनाडु मे 6 संदेहास्पद लोगों के देश मे घुसने की जानकारी मिली थी. उन्हे गिरफ्तार किया गया है. उनसे पूछताछ जारी है.

LOC के रास्ते कश्मीर में आतंकियों को घुसपैठ कराने में नाकाम पाकिस्तान अब समंदर के रास्ते आतंकियों को हिन्दुस्तान के अंदर दाखिल कराने की साजिश रच रहा है, इसके लिए जैश-ए-मोहम्मद करीब 40 आतंकियों को अंडरवाटर ट्रेनिंग दे रहा है, इस तरह की ट्रेनिंग में ISI और सेना भी शामिल होती है, ट्रेनिंग के बाद इन आतंकियों को समंदर के रास्ते गुजरात या महाराष्ट्र में दाखिल कराया जाएगा.