पैंगोंग, हॉट स्प्रिंग और डेपसांग से पीछे हटने को तैयार नहीं चीन! दोनों देशों के सैन्य अधिकारियों की हुई बैठक

चीन पैंगोंग झील, हॉट स्प्रिंग और डेपसांग प्लेंस से अपनी सेना को पीछे हटाने के लिए तैयार नहीं है. कई घंटे चली इस बैठक में यह पहला मौका था, जब किसी सैन्य बातचीत में विदेश मंत्रालय (MEA) के संयुक्त सचिव ने भी हिस्सा लिया.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 1:28 am, Tue, 22 September 20
india china, india china population, population density of india

लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेख (LAC) पर जारी गतिरोध के बीच भारत और चीन (China) के वरिष्ठ सैन्य कमांडरों की सोमवार को एक बैठक हुई. हर बार की तरह ही यह बैठक भी सीमा पर शांति कायम करने को लेकर हुई, लेकिन इसमें जो जानकारी सामने निकल कर आई, वो ये कि चीन कई क्षेत्रों पर पीछे हटने को तैयार नहीं है.

सूत्रों के मुताबिक, चीन पैंगोंग झील, हॉट स्प्रिंग और डेपसांग प्लेंस से अपनी सेना पीछे हटाने के लिए तैयार नहीं है. कई घंटे चली इस बैठक में यह पहला मौका था, जब किसी सैन्य बातचीत में विदेश मंत्रालय (MEA) के संयुक्त सचिव ने भी हिस्सा लिया.

जानकारी के मुताबिक, सैन्य बातचीत सोमवार सुबह 9 बजे चुशूल सेक्टर में LAC के चीनी किनारे पर मोल्दो में शुरू हुई और जो दिन ढलने के भी काफी देर बाद खत्म हुई. वहीं कोर कमांडर स्तर की यह बैठक मंगलवार को भी जारी रहने की संभावना है. मालूम हो कि कमांडर स्तर की इससे आखिरी बैठक भी इसी तरह काफी लंबी चली थी.

दो भारतीय लेफ्टिनेंट जनरल हुए शामिल

ऑनलाइन मीडिया के मुताबिक, अधिकारियों में दो भारतीय लेफ्टिनेंट जनरल शामिल थे, जिन्होंने बातचीत में हिस्सा लिया. इसमें हरिंदर सिंह, जो लेह स्थित 14 कोर के प्रमुख हैं और दूसरे उनके जूनियर अधिकारी पीजीके मेनन हैं.

मालूम हो कि मई की शुरुआत में चले आ रहे तनाव के बाद से भारतीय और चीनी सैनिक LAC के साथ कई प्वाइंट्स पर आमने-सामने आ गए हैं. पूर्वी लद्दाख सेक्टर में सैन्य तनाव ज्यादा है, जहां दोनों सेनाओं ने सर्दियों में भी अपनी पॉजिशन पर डटे रहने की तैयारी कर ली है.